लोकायुक्त ने 21 हजार की रकम लेते हुए रंगेहाथ दबोचा: रिश्वत लेते पकड़े गये लोक शिक्षण संयुक्त संचालक, एकाउंटेंट व बाबू

October 12th, 2021

डिजिटल डेस्क जबलपुर। लोक शिक्षण कार्यालय की महिला भृत्य से 21 हजार की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त टीम ने कार्यालय के संयुक्त संचालक डॉ. राम मनोहर तिवारी के साथ एकाउंटेंट अशोक कुमार द्विवेदी और बाबू संतोष भटेले को रंगेहाथ दबोच लिया। रिश्वत लेते पकड़े गये अधिकारी-कर्मचारियों की गिरफ्तारी कर कार्रवाई उपरांत उन्हें मुचलके पर रिहा किया गया।
इस संबंध में लोकायुक्त निरीक्षक स्वपनिल दास ने बताया कि संयुक्त संचालक लोक शिक्षण कार्यालय में महिला भृत्य के पद पर अनीशा बेगम पदस्थ है। 26 अगस्त 2021 को कार्यालय से कम्प्यूटर चोरी हो गया था। उक्त चोरी की रिपोर्ट बेलबाग थाने में दर्ज कराई गयी थी। चोरी की इस घटना के लिए संयुक्त संचालक द्वारा महिला भृत्य को दोषी ठहराते हुए विभागीय कार्रवाई की धमकी दी गयी और उसे सरकारी क्वार्टर खाली करने के लिए कहा गया था। पीडि़ता ने जब अधिकारी से चर्चा की तो मामले को निपटाने के लिए 21 हजार की रिश्वत माँगी गयी थी। पीडि़त महिला ने यह बात अपने बेटे मो. गुलजार से बताई और फिर लोकायुक्त को शिकायत की गयी। मंगलवार को लोकायुक्त की टीम ने पीडि़ता को रिश्वत की रकम लेकर कार्यालय भेजा और जैसे ही महिला ने रिश्वत की रकम दी लोकायुक्त टीम ने संयुक्त संचालक व उसके सहयोगियों को दबोच लिया।

 

खबरें और भी हैं...