comScore

डिण्डौरी-मण्डला में हुई बरसात से बरगी बाँध को राहत, 415 मीटर के ऊपर पहुँचा जलस्तर

डिण्डौरी-मण्डला में हुई बरसात से बरगी बाँध को राहत, 415 मीटर के ऊपर पहुँचा जलस्तर

डिजिटल डेस्क जबलपुर। जबलपुर में भले ही बारिश को लेकर अब भी मायूसी का आलम है, पर राहत भरी बात यही है कि बरगी बाँध के कैचमेंट एरिया में कम से कम बरसात को लेकर उतनी समस्या नहीं है। बाँध के डिण्डौरी, मण्डला जैसे जल भराव एरिया में रुक-रुककर बरसात हो रही है। अभी तक बाँध के 8 जल स्टेशनों में 15 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है। बीते 24 घण्टों में आधा इंच पानी गिरा। बाँध में अभी 267 घनमीटर प्रतिसेकेण्ड की रफ्तार से पानी आ रहा है। 24 जुलाई की शाम तक बाँध का जलस्तर 415.05 मीटर पर रहा। बाँध का जल प्रबंध देखने वाले राजाराम रोहित के अनुसार अभी मोहगाँव, मवई, मुक्की और मनोट जैसे जंगली एरिया में बरसात हो रही है। यहाँ पर हुई बरसात का असर है िक बाँध के धीरे-धीरे भरने का क्रम चालू है। आगे रेंज के एरिया में अच्छी बरसात की संभावना जताई गई है। गौरतलब है कि बाँध में 8 क्षेत्र ऐसे हैं जहाँ का पानी आकर भरता है। 
बाँध भरे तो यह राहत - बरगी बाँध नर्मदा नदी पर बना पहला बाँध है यदि यह बाँध भरता है तो आगे नर्मदा पर बने शेष बाँधों की जल जरूरतें काफी हद तक पूरी हो जाती हैं। पूरे मध्य प्रदेश में पेयजल, सिंचाई और विद्युत उत्पादन के  लिहाज से भी यह उपयोगी माना गया है। इसी के साथ खंदारी और परियट से अलग  जबलपुर में नर्मदा से 85 फीसदी पेयजल की सप्लाई होती है। नर्मदा को ज्यादा मात्रा में जल बरगी बाँध से मिलता है। इस तरह बरगी बाँध के बारिश के सीजन में भरने से पूरे साल जबलपुर शहर को  राहत रहती है। बारिश के सीजन में इसी बाँध पर सभी की नजर बनी रहती है। 
 

कमेंट करें
ofJVu