comScore

बेला में किशोर की मौत,परिजन को हत्या का संदेह -ट्रैक्टर मालिक समेत तीन को हिरासत में लिया 

बेला में किशोर की मौत,परिजन को हत्या का संदेह -ट्रैक्टर मालिक समेत तीन को हिरासत में लिया 

डिजिटल डेस्क सतना। रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र केमार निवासी नाबालिग की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई जिस पर परिजन हत्या का संदेह जता रहे हैं तो वहीं पुलिस मर्ग कायम कर जांच में जुट गई है। कुछ संदेहियों को भी हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 17 वर्षीय करण चौधरी पुत्र स्वर्गीय राकेश चौधरी अपने ही गांव के ललवा केवट का ट्रैक्टर चलाता था। सोमवार रात को ट्रैक्टर में डीजल भरवाने की बात कहकर ललवा उसे अपने हाथ मैहर बाइपास रोड पर ले गया था। काफी देर बाद ट्रैक्टर मालिक नाबालिग को जख्मी हालत में उसके घर लेकर पहुंचा और परिजनों को भी अपनी गाड़ी में बैठाकर संजय गांधी अस्पताल रीवा ले गया। वहां पर उपचार के दौरान करण की मौत हो गई,तब मंगलवार सुबह पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।
ट्रैक्टर मालिक पर उठाई उंगली
परिजनों ने ट्रैक्टर मालिक पर उंगली उठाते हुए कहा कि जब घटना बेला में शराब दुकान के पास हुई थी तो चंद कदम की दूरी पर स्थित पुलिस चौकी में सूचना क्यों नहीं दी गई और सीधे अस्पताल भी नहीं ले जाया गया,यदि तुरंत ही उपचार मिल जाता तो जान बचाई जा सकती थी। 
पुलिस ने ललवा समेत तीन को हिरासत में लिया
किशोर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत और परिजनों के आरोप पर रामपुर पुलिस ने ललवा केवट समेत तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है,जो पूछताछ में लगातार बयान बदल रहे हैं। पहले कहा कि डीजल भराकर वापस आते समय करण बेला में एक दुकान के पास रुक गया था तभी पांच अज्ञात लोगों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया और जब शोर मचाने पर लोग मदद के लिए दौड़े तो हमलावर भाग निकले। फिर बाद में अज्ञात वाहन से दुर्घटना की बात कहने लगे। ऐसे में पुलिस सच उगलवाने के लिए मनोवैज्ञानिक तरीको का इस्तेमाल कर रही है। पुलिस को पीएम रिपोर्ट मिलने का इंतजार है जिसके बाद काफी कुछ पता चल जाएगा। हालांकि प्रारंभिक रिपोर्ट में सिर के पीछे और पैरों में गंभीर चोंट पाई गई हैं। पुलिस के सूत्र भी हत्या की तरफ इशारा कर रहे हैं।
 

कमेंट करें
Qgsvl