• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • The master mind of stealing in a private company store came in the custody of the police after 8 years

सतना: प्राइवेट कंपनी के स्टोर में चोरी करवाने का मास्टर माइंड 8 वर्ष बाद आया पुलिस की गिरफ्त में

January 13th, 2022

  डिजिटल डेस्क सतना। जिले में फीडर सेपरेशन का काम करने वाली कंपनी के स्टोर से लाखों का सामान चोरी करवाने के अपराध में 8 साल से फरार चल रहे स्टोर कीपर को अंतत: कोलगवां पुलिस ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है, उस पर 3 हजार का इनाम भी रखा गया था। 
ऐसे हुई थी वारदात —-
पुलिस ने बताया कि उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद की इरा इंजीनियरिंग कंपनी को जिले में विद्युत फीडर सेपरेशन टेंडर का ठेका मिला था, जिसका स्टोर रूम मारूति नगर में बनाया गया था, यहीं से वर्ष 2013-14 में स्टोर कीपर सुनील खरे पुत्र संतोष कुमार 36 वर्ष, निवासी धवारी गली नम्बर-4 सिटी कोतवाली, ने प्रेम सिंह पुत्र ऋषि सिंह निवासी मारूति नगर, राजेश कुमार पटेल पुत्र महेन्द्र प्रसाद 27 वर्ष, निवासी चुरहट जिला सीधी और संतोष पटेल पुत्र रामदास 19 वर्ष, निवासी सिविल लाइन रीवा के साथ मिलकर लाखों की वायर समेत जरूरी सामान चोरी करवा दिया था, जिसका पता चलने पर कंपनी के प्रबंधक पंकज श्रीवास्तव 34 वर्ष, निवासी गाजियाबाद उत्तरप्रदेश, हाल राजेन्द्र नगर सिटी कोतवाली, के द्वारा शिकायत की गई थी।
पहले ही पकड़े जा चुके हैं 2 साथी —-
तब धारा 457, 380 का अपराध पंजीबद्ध कर जांच शुरू की गई और कुछ समय बाद महेन्द्र व संतोष को पकड़ लिया गया, मगर सुनील एवं ऋषि हाथ नहीं आए। ऐसे में पुलिस अधीक्षक की तरफ से दोनों की गिरफ्तारी के लिए 3-3 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया। अंतत: 8 वर्ष की तलाश के बाद आरोपी स्टोर कीपर को मुखबिर और साइबर सेल की मदद से बुधवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया गया, जिसे न्यायालय में पेश किया गया है। अब इस मामले में सिर्फ ऋषि की गिरफ्तारी शेष रह गई है।

खबरें और भी हैं...