• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • The Northern Limit of Monsoon (NLM) still remains over Barmer, Bhilwara, Dholpur, Aligarh, Meerut, Ambala and Amritsar!

दैनिक भास्कर हिंदी: मॉनसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अभी भी बाड़मेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, अलीगढ़, मेरठ, अंबाला और अमृतसर पर बनी हुई है!

June 28th, 2021

डिजिटल डेस्क | पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय मॉनसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अभी भी बाड़मेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, अलीगढ़, मेरठ, अंबाला और अमृतसर पर बनी हुई है Posted On: 26 JUN 2021 4:58PM by PIB Delhi भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र अनुसार: (विज्ञप्ति जारी करने का समय: बुधवार 26 जून 2021, 16:15 आईएसटी) भारतीय समयानुसार 1430 बजे तक के मौसमी स्थितियों पर आधारित समग्र भारत का मौसम पूर्वानुमान बुलेटिन (सायंकालीन): · मॉनसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अभी भी समय 26° उत्तरी अक्षांश/ 70° पूर्वी देशांतर, बाड़मेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, अलीगढ़, मेरठ, अंबाला और अमृतसर से होकर गुज़र रही है।

· वर्तमान मौसमी स्थितियाँ राजस्‍थान, पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के बाकी हिस्‍सों तथा दिल्‍ली में अगले 7 दिनों तक दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के अनुकूल नहीं हैं। · पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर गंगीय पश्चिम बंगाल और झारखंड होते हुए बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पूर्वी भागों तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। · एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र झारखंड और इससे सटे भागों पर बना हुआ है। इसकी समुद्र तल से ऊंचाई 3.1 किलोमीटर है। · एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र ओडिशा और आसपास के भागों पर भी बना हुआ है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 0.9 किमी से 2.1 किलोमीटर के बीच है। · उत्तर-पश्चिमी राजस्थान और आसपास के भागों पर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।

यह सिस्टम समुद्र तल से लगभग 2.1 किलोमीटर ऊपर बना है। · राजस्थान के उत्तर-पूर्वी हिस्सों पर एक चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है, जो समुद्र तल से लगभग 0.9 किलोमीटर ऊपर है। · राजस्थान के दक्षिण-पश्चिमी भागों और आसपास के क्षेत्रों के ऊपर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र है, जो समुद्र तल से लगभग 5.8 किलोमीटर ऊपर है। · गुजरात के पूर्वी भागों और इससे सटे हिस्सों के ऊपर भी एक चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है। इसकी समुद्र तल से ऊंचाई 2.1 किलोमीटर और 3.1 किलोमीटर के बीच है। · अरब सागर के पश्चिमी मध्य भागों और इससे सटे ओमान के तटों पर भी समुद्र तल से 3.1 किमी और 5.8 किमी के बीच एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।

· एक पश्चिमी विक्षोभ 71 डिग्री पूर्वी देशांतर और 28 डिग्री उत्तरी अक्षांश के बीच क्षोभमण्डल के मध्य और ऊंचाई वाले क्षेत्रों पर है। इसकी समुद्र तल से ऊंचाई लगभग 5.8 किमी है। और अधिक जानकारी के लिए लॉग ऑन करें www.imd.gov.in या निम्नलिखित दूरभाष नंबरों पर संपर्क करें : 91 1124631913, 24643965, 24629798 (1875 से राष्ट्र सेवा में समर्पित) स्थान आधारित विशिष्ट मौसम पूर्वानुमान और चेतावनी के लिए मौसम ऐप, कृषि-मौसम सलाह के लिए मेघदूत ऐप, और बिजली गिरने संबंधी चेतावनी जानने के लिए दामिनी ऐप डाउनलोड करें। जिलेवार मौसम पूर्वानुमान और चेतावनी के लिए राज्यों के मौसम कार्यालय/क्षेत्रीय मौसम कार्यालय की वेबसाइट पर लोग ऑन करें।

खबरें और भी हैं...