पुलिस का दावा :  राजनीतिक रंजिश नहीं पैसों के लेनदेन को लेकर हुआ था शिवसेना पदाधिकारी पर हमला

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। ठाणे जिले के कल्याण इलाके में उद्धव ठाकरे समर्थक पदाधिकारी हर्षवर्धन पलांडे पर बुधवार को हमला हुआ था। इसके बाद दावा किया गया था कि हमला शिंदे गुट से जुड़े लोगों ने किया है। वहीं मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो दावा कर रहे हैं कि पैसों के लेन देन के चलते यह हमला किया गया। लेकिन पालांडे का दावा है कि आरोपी झूठ बोल रहे हैं और पुलिस भी उनका साथ दे रही है। उनका आरोप है कि पुलिस ने मामले में सही तरीके से शिकायत भी दर्ज नहीं की है। पलांडे कल्याण शिवसेना के शहर उपप्रमुख हैं। बुधवार को कल्याण में पुणे लिंक रोड पर चार-पांच लोगों ने पलांडे पर लोहे की रॉड, चॉपर जैसे हथियारों से हमला कर दिया था। हमले में जख्मी पलांडे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनकी हालत खतरे से बाहर है। मामले में कोलसेवाडी पुलिस ने मारपीट के आरोप में एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू की और गौतम सोनावणे और अंबादास कांबले नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सोनावणे ने पुलिस को बताया कि बार-बार मांगने पर भी पलांडे उसके 50 हजार रुपए वापस नहीं कर रहे थे। इसी से नाराज होकर उसने साथियों के साथ पलांडे को सबक सिखाने के लिए हमला किया। वहीं पलांडे का दावा है कि उन पर शिंदे समर्थक पूर्व नगरसेवक महेश गायकवाड के इशारे पर हमला हुआ है। लेकिन गायकवाड ने कहा है कि उनका हमले से कोई लेना देना नहीं है। पुलिस को इस मामले की गहराई से जांच करनी चाहिए। वहीं मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उनके बेटे और स्थानीय सांसद श्रीकांत शिंदे और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने फोन कर पलांडे का हालचाल पूछा है।