comScore

एसपी बनकर हेड कांस्टेबल को धमकाया , टीआई को दीं गालियां - आरक्षक गिरफ्तार 

एसपी बनकर हेड कांस्टेबल को धमकाया , टीआई को दीं गालियां - आरक्षक गिरफ्तार 

डिजिटल डेस्क, सतना। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल के नाम पर मैहर थाने के एक हेड कांस्टेबल मुकेश सुमन को फोन कर धमकाने और इसी कॉल में टीआई देवेन्द्र प्रताप सिंह का गालियां बकने के आरोप प्रमाणित पाए जाने पर यहां पुलिस लाइन में तैनात एक आरक्षक दिलीप सिंह परिहार को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। आरोपी आरक्षक के विरुद्ध मैहर थाने में आईपीसी की दफा-170 के तहत अपराध (क्राइम नंबर-960/ 19) कायम किया गया है। आरक्षक दिलीप सिंह को मंगलवार  को सुबह यहां पुलिस लाइन से गिरफ्तार किया गया। और फिर उसे मैहर की कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने आरक्षक को जेल भेज दिया है।  
 

क्या है पूरा मामला 

प्रकरण के मुताबिक यहां पुलिस लाइन में पदस्थ आरक्षक दिलीप सिंह परिहार इससे पहले मैहर थाने में पदस्थ था। कत्र्तव्य में लापरवाही के कारण उसे सस्पेंड करते हुए लाइन अटैच किया गया था। बहाली के बाद पुलिस लाइन में ही उसकी पोस्टिंग थी। आरोपी आरक्षक ने 14 अक्टूबर को रात पौने 12 बजे के करीब मैहर थाने के हेड कांस्टेबल मुकेश सुमन को मोबाइल पर कॉल कर कहा कि वो एसपी बोल रहा है। उसने टीआई को गालियां बकते हुए ये भी कहा कि तुम्हारा टीआई फोन नहीं उठाता है। आरोप है कि शराब के नशे में आरक्षक दिलीप सिंह परिहार ने देख लेने की धमकियां भी दीं। हेड कांस्टेबल ने टीआई देवेन्द्र प्रताप सिंह को वस्तुस्थिति से अवगत कराया और इस तरह से बात पुलिस अधीक्षक तक पहुंची। एसपी के निर्देश पर आरक्षक के विरुद्ध न केवल अपराध दर्ज किया गया बल्कि उसे गिरफ्तार करके जेल भी भेज दिया गया। 
 

कमेंट करें
x5P63