दैनिक भास्कर हिंदी: लूट और महिलाओं के बना लेते थे अश्लील वीडियो, 3 लुटेरे गिरफ्तार

May 5th, 2019

डिजिटल डेस्क,सतना। रामनगर थाना अंतर्गत पपरा पहाड़ में लम्बे समय से बाइक सवारों से लूटपाट और उनके साथ की महिलाओं और युवतियों से अश्लील हरकत कर फोटो-वीडियो बनाने वाले आदतन बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। इनके कब्जे से 1 बाइक, 4 मोबाइल सहित 1 लाख का माल बरामद करते हुए 4 वारदातों का खुलासा किया गया लेकिन दो प्रकरणों में ही फरियादी सामने आए। गिरोह का पर्दाफाश करने पर डीजीपी वीके सिंह ने पूरी टीम को 50 हजार का पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की है।

क्या है मामला
पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि 29 अप्रैल को रीवा जिले के गोविंदगढ़ थाना अंतर्गत धोखरी निवासी 25 वर्षीय युवक अपने पड़ोस की युवती को झाड़-फूंक के लिए ले जा रहा था, तब लगभग साढ़े 11 बजे पपरा पहाड़ पर पहुंचा तभी बाइक सवार 2 बदमाशों ने रास्ता रोककर मारपीट करते हुए युवक से 2 हजार रूपए व 2 मोबाइल छीन लिए तो युवती का भी फोन छुड़ाकर अश्लील हरकत कर फोटो खींच लिया और वीडियो भी बना लिया। फरियादी की शिकायत पर धारा 392, 354ख के तहत कायमी की गई तो किसी दिन अमरपाटन क्षेत्र के एक गांव से रिश्ते की बहन को लेकर धौंसडा जा रहे 30 वर्षीय युवक को 3 बदमाशों ने पपरा पहाड़ पर रोक लिया और उन्हें जंगल में ले गए जहां पिटाई कर मोबाइल व साढ़े 17 सौ रूपए छीनकर बहन के साथ अभद्रता करने लगे। इसी बीच शोर मचाने पर रास्ते से गुजर रहे कुछ लोग रूक गए तो बदमाश वहां से भाग निकले। इस मामले में धारा 394, 354ख के तहत कायमी की गई।

तब सामने आई पीड़िताएं
दोनों ही वारदातों में युवतियों ने लोक-लाज के डर से पहले तो लूट होने का ही बयान दिया, पर जब पुलिस अधिकारियों ने समझाइश देते हुए पहचान गुप्त रखे जाने का भरोसा दिलाया। तब उन्होंने सच्चाई बताई और कोर्ट में भी बयान दर्ज कराया। दो अन्य मामलों में पीडि़ताओं ने  इसके बावजूद शिकायत नहीं की।

ऐसे हाथ आया गिरोह
दोनों मामलों की गंभीरता को देखते हुए पुलिस टीम ने पपरा पहाड़ समेत आसपास के गांव में मुखबिरों के जरिए सुराग जुटाए तो एक संदिग्द्ध बाइक का नंबर मिला, जिसकी तस्दीक की गई तो ज्ञात हुआ कि एमपी 19 एमआर 8619 का मालिक उमाकांत मांझी पुत्र कोदूलाल निवासी ललितपुर हाल कंदहली, थाना ताला है। तब गांव जाकर पूछताछ की गई तो उमाकांत ने गाड़ी का इस्तेमाल भाई उमाशंकर उर्फ लल्ला 20 वर्ष के द्वारा किए जाने की जानकारी दी, लिहाजा युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने असमित केवट पुत्र सियाशरण केवट  20 वर्ष और राजकुमार केवट पुत्र विश्वनाथ केवट 23 वर्ष कंदहली के साथ मिलकर 4 वारदात करने का जुर्म स्वीकार किया, जिस पर दोनों युवकों को भी पकड़ लिया गया।

फोन में मिले फोटो, वीडियो
आरोपियों ने बताया कि पहली वारदात में मारपीट कर मोबाइल लूटा था तो दूसरे अपराध में मोबाइल छीनकर वीडियो बनाया था। तीसरी और चौथी दफा लूट के साथ फोटो-वीडियो बनाए थे। इनके कब्जे से 4 मोबाइल और 3 हजार रूपए बरामद किए गए। चारों मोबाइलों की जांच करने पर रिपोर्ट करने वाली दो पीडि़ताओं के अलावा 2 अन्य महिलाओं के अश्लील फोटो, वीडियो भी मिले।

इनकी रही भूमिका
इन वारदातों का खुलासा करने के लिए एएसपी गौतम सोलंकी को  निगरानी की जिम्मेदारी सौंपी गई थी तो एसडीओपी हेमंत शर्मा के साथ रामनगर थाना प्रभारी सतीश मिश्रा ने सहायक उपनिरीक्षक गंगा सिंह, आरक्षक क्रांति मिश्रा, रामसुरेश यादव, अनिल कुमार, रविशंकर पांडेय और महिला आरक्षक प्राप्ति गौतम को लेकर सभी पीडि़तों तक पहुंचकर  सुरक्षा का भरोसा दिलाते हुए तीनों बदमाशों को पकडऩे में अहम भूमिका निभाई, जिस पर एसपी ने पूरी टीम की पीठ थपथपाई तो कार्रवाई के संबंध में डीजीपी वीके सिंह को अवगत कराया, जिन्होंने 50 हजार रूपए का इनाम प्रदान करने की घोषणा कर दी।

खबरें और भी हैं...