comScore

अब तक 18 से 44 वर्ष की 17 प्रश. आबादी को पहला डोज

अब तक 18 से 44 वर्ष की 17 प्रश. आबादी को पहला डोज

डिजिटल डेस्क जबलपुर । कोरोना टीकाकरण अभियान के अंतर्गत 5 मई से 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग में टीकाकरण की शुरूआत हुई थी, तब से लेकर अब तक इस कैटेगरी की कुल आबादी में से 17 प्रतिशत को टीके का पहला डोज लग चुका है, वहीं दूसरा डोज लेने वाले 1 प्रतिशत हैं।  इस कैटेगरी में 13 लाख 36 हजार 484 टीके लगाने का लक्ष्य विभाग द्वारा रखा गया है। इसी तरह 45 से अधिक उम्र की 25 प्रतिशत आबादी को भी दो डोज दिए जा चुके हैं, जबकि पहला डोज लेने वाले 48 प्रतिशत हैं। इस कैटेगरी में 7 लाख 59 हजार 600 टीके लगने हैं। वहीं बुधवार को जिले में 122 केंद्रों पर टीकाकरण हुआ। 19 हजार 850 के लक्ष्य के मुकाबले 19 हजार 731 टीके लगे। 99 फीसदी टीकाकरण हुआ।    
विभिन्न शिविरों में टीकाकरण 
* अधारताल गुरुद्वारा परिसर में टीकाकरण शिविर में  100 से अधिक लोगों को टीका लगा।  शिविर में प्रधान अधारताल गुरुद्वारा जीएस मैनी, कपिल खरे, जीएस सोढ़ी, डीएस बल, हरदीप सिंह आदि का सहयोग रहा। 
* कुशल मंगल भवन जैन दादा वाड़ी सदर में कोरोना वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें 18 प्लस और 45 प्लस कैटेगरी में टीके लगाए गए। शिविर में कोठारी ज्वैलर्स का सहयोग रहा।  
* नूतन मराठी स्कूल में चल रहे वैक्सीनेशन कैंप में आज 5000वाँ टीका लगाया जाएगा। जिसमें कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, डॉ. जितेंद्र जामदार मौजूद रहेंगे। 
* हितकारिणी लॉ कॉलेज में विगत 2 माह से चल रहे टीकाकरण केंद्र पर सेवाएँ दे रहे नर्सिंग एवं अन्य स्टाफ व स्वसेवकों का सम्मान उत्कल समाज के सदस्यों द्वारा किया गया। इस मौके पर शानू यादव, नवीन यादव, योगेश यादव आदि मौजूद रहे। 
* सिटी सर्किल क्षेत्र के बिजली कर्मियों का मिशन कम्पाउंड में कैंप लगाकर करीब 90 कर्मियों व उनके परिवार के सदस्यों को टीका लगाया गया। इस मौके पर कार्यपालन अभियंता हिमांशु अग्रवाल, एसई सिटी सुनील त्रिवेदी अन्य उपस्थित रहे।  
18 प्लस के हितग्राही लौटे 
नगर निगम द्वारा शेष रह गए करीब 238 फ्रंट लाइन वर्कर्स  के लिए टीकाकरण  शिविर का आयोजन किया गया, लेकिन शिविर में 45 प्लस कैटेगरी के करीब 26 लोगों को ही वैक्सीन लग सकी। 18 प्लस के हितग्राहियों को लौटना पड़ा। इस बारे में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसएस दाहिया ने बताया कि दोनों ही कैटेगरीज के केंद्र बनाने के लिए अलग-अलग आईडी जनरेट होती है। इस शिविर के लिए 45 प्लस कैटेगरी की आईडी जनरेट की गई थी। 
 

कमेंट करें
H2CuF