दैनिक भास्कर हिंदी: व्यापमं घोटाले में फंसे पुलिस के 2 आरक्षक बर्खास्त

April 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। व्यावसायिक परीक्षा मंडल में हुए घोटाले के मामले में निलंबित दो आरक्षकों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि अब व्यापमं घोटाले के आरोपियों पर लगातार कार्रवाई की जाएगी। अब संबंधित विभागों में सूची तैयार की जा रही है, जिन पर बर्खास्तगी की गाज गिरना तय बताया जा रहा है।

इनको किया बर्खास्त
व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) के बहुचर्चित भर्ती घोटाले में निलंबित चल रहे दो आरक्षकों शिवेश कुमार दुबे और श्रीपति मिश्रा को पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बर्खास्त कर दिया है। एसपी ने बताया कि बर्खास्तगी की ये कार्यवाही दोनों आरोपी आरक्षकों के विरुद्ध चल रही विभागीय जांच पूरी होने के बाद की गई है। आरक्षक शिवेश कुमार दुबे (नंबर-335) और आरक्षक श्रीपति मिश्रा (नंबर-734) को विभागीय जांच में भर्ती प्रक्रिया में नियमों उल्लंघन करने का दोषी पाया गया है।

4 वर्ष पहले हुई थी गिरफ्तारी
इन दोनों को वर्ष 2015 में एसटीएफ भोपाल ने गिरफ्तार करते हुए पूछताछ की थी। शिवेश के खिलाफ विभागीय जांच का जिम्मा नागौद के पूर्व एसडीओपी संतोष डेहरिया और श्रीपति मिश्रा के विरुद्ध डीई तब के डीएसपी हेड क्वार्टर श्रीनाथ सिंह को सौंपी गई थी। जांच के बाद संबंधित दोषी पाए गए हैं, जिसके बाद उनकी बर्खास्तगी की कार्रवाई की गई है।

हड़कंप की स्थिति
बताया जाता है कि दो आरक्षकों के निलंबन के बाद पूरे महकमे में हड़कंप की स्थिति निर्मित है। जानकारी के मुताबिक व्यापमं घोटाले दोषियों की कुण्डली तैयार की जा रही है। घोटाले की जांच के दायरे में जो-जो भी हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी है। घोटाले के दोषियों की लिस्ट तैयार की जा रही है, जिसके संबंधितों पर कार्रवाई की जाएगी। बताया जाता है। इस मामले में पूर्व सरकार के वरिष्ठ नेता सहित कई प्रशानिक अधिकारियों पर भी गाज गिरना तय बताया जा रहा है। सूत्रों की मानें, तो हाल ही पड़े आयकर के छापे की कार्रवाई के बाद व्यापमं के दोषियों पर कार्रवाई हो सकती है।