comScore

किसान की मौत पर हंगामा, सीएम तक पहुँची शिकायत, एक अधिकारी का तत्काल तबादला

किसान की मौत पर हंगामा, सीएम तक पहुँची शिकायत, एक अधिकारी का तत्काल तबादला

डिजिटल डेस्क जबलपुर । पनागर क्षेत्र के बम्नौदी में विगत दिवस एक किसान द्वारा फसल का भुगतान न होने पर आत्महत्या करने के मामले ने इतना तूल पकड़ा कि सीएम तक इसकी जानकारी पहुँच गई। उन्होंने तत्काल क्षेत्रीय विधायक और कलेक्टर से इस संबंध में चर्चा की और रिपोर्ट तलब की। पता चला है कि बम्नौदी निवासी राकेश उर्फ लल्ला कुर्मी ने दो दिन पहले फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। 
एसडीएम नम: शिवाय अरजरिया ने कलेक्टर को दिये गये प्रतिवेदन में कहा है कि मृतक के नाम पर कोई जमीन नहीं थी, बल्कि उनके पिता लक्ष्मी प्रसाद के नाम पर जमीन थी जिसकी फसल का भुगतान भी कर दिया गया है। मृतक के पिता के ऊपर कर्ज था और वे बाकायदा उसे चुका रहे थे। कर्ज चुकाने पर बैंक के अधिकारियों ने उन पर कोई दबाव नहीं डाला।  प्रतिवेदन में कहा गया है कि परिवार ने जानकारी दी है कि मृतक राकेश सिकमी पर विभिन्न स्थानों पर खेती का कार्य करता था तथा नुनियाँ समिति में उसके द्वारा भगवानदास पटेल के नाम से 75 क्विंटल गेहूँ बेचा गया। यह माल रिजेक्शन में आ गया जिससे उसका भुगतान रोका गया। 6 जुलाई को अपग्रेड माल होने के कारण स्वीकृति पत्रक जारी किये गये, जिसका भुगतान भोपाल स्तर से जल्द होने वाला था। इस मामले को लेकर जब हल्ला मचा तो जिला विपणन अधिकारी का तबादला ग्वालियर कर दिया गया। 
सीएम ने ली जानकारी
 पता चला है कि इस मामले की जानकारी जैसे ही सीएम शिवराज सिंह चौहान तक पहुँची तो उन्होंने क्षेत्रीय विधायक इंदू तिवारी और कलेक्टर भरत यादव से फोन पर चर्चा कर वस्तुस्थिति जानी -
 किसानों की फसल का भुगतान समय सीमा में न होने के कारण चर्चाओं में रहे डीएमओ विवेक तिवारी का स्थानांतरण तत्काल ग्वालियर कर दिया गया है। वहीं जबलपुर में ग्वालियर के जिला विपणन अधिकारी रोहित सिंह बघेल को पदस्थ किया गया है।
इनका कहना है
मृतक किसान के नाम पर कोई जमीन नहीं थी, इस संबंध में अधिकारियों से जाँच पड़ताल कराई गई। सीएम ने भी इस मामले को गंभीरता से लिया, जिसके बाद तत्काल रिपोर्ट भोपाल भेजी गई। 
-भरत यादव, कलेक्टर

कमेंट करें
2dDht