कटनी: मृत बुजुर्ग के साथ पत्नी सात दिन से अधिक समय तक कमरे में बंद रही

September 28th, 2022

डिजिटल डेस्क,कटनी। विजयराघवगढ़ थाना मुख्यालय में मानवीय संवेदनाओं से जुड़ा हुआ मामला सामने आया है। मृत बुजुर्ग के साथ पत्नी सात दिन से अधिक समय तक कमरे में बंद रही। दरवाजा न खुलने और मकान से दुर्गंध आने से इसकी भनक आसपास के लोगों को लगी। मौके पर पुलिस पहुंची तो पत्नी पुष्पा त्रिपाठी बस यही कह रही थी कि मेरे पति सो रहे हैं, उन्हें परेशान न करो, इलाज के लिए अस्पताल ले चलो। यह बात सुन मौजूद पुलिसकर्मियों के आंखों में भी आंसू आ गए। यह घटना वार्ड क्रमांक 15 की बताई जा रही है। मृतक सेवानिवृत्त शिक्षक बृजेश त्रिपाठी 85 बताए गए हैं। इनकी कोई संतान नहीं थी। कुछ लोगों के मुताबिक पत्नी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। रूप में है । पुलिस ने घर से शव निकलवाकर अस्पताल में पीएम करवाया। घटना की वजह पता नहीं लग पाई। फि र भी पुलिस के मुताबिक 15 दिन पहले इनकी मौत हो गई थी। धारा 174 के तहत मर्ग कायम कर मामले को पुलिस ने विवेचना में लिया है। फिलहाल इसे सामान्य मौत बताया जा रहा है।

पास में नहीं रहते थे रिश्तेदार

घटना का दूसरा पहलू यह है कि पास में कोई रिस्तेदार नहीं रहते थे। दूर के रिस्तेदार जरूर आसपास रहे, लेकिन ब्रजेश त्रिपाठी और उनमें बातचीत नहीं होती थी। जिसके चलते इसकी जानकारी किसी को भी नहीं लग पाई। पुलिस ने मृतक के साले को इसकी जानकारी दी। मृतक का यह रिस्तेदार बम्बई में रहता था। जांच में एक बात और निकलकर सामने आई है कि डेढ़ माह से बुजुर्ग बाहर नहीं निकले हुए थे। जब कभी राशन की आवश्यकता पड़ती थी तो दूर का ही रिस्तेदार जानकारी लगने पर यहां राशन की व्यवस्था कर चला आता था। थाना प्रभारी विजय सिंह बघेल ने बताया कि प्रत्येक पहलुओं की जांच की जा रही है।