comScore

गला घोटकर हत्या करने के बाद इंदारा में फेंकी थी महिला की लाश

गला घोटकर हत्या करने के बाद इंदारा में फेंकी थी महिला की लाश

डीएसपी हेडक्वार्टर ने रामपुर में किया कैम्प, संदेहियों से पूछताछ जारी
डिजिटल डेस्क  सतना।
रामपुर बाघेलान थाना अंतर्गत देवमऊ-दलदल के बरछा टोला में 35 वर्षीय सविता सिंह पत्नी उपेन्द्र सिंह पटेल को गला घोंटकर मौत के घाट उतारने के बाद लाश इंदारा में फेंकी गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या के प्रमाण मिलने पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 302, 201 आईपीसी का अपराध पंजीबद्ध कर जांच शुरू कर दी है। सहायक पुलिस अधीक्षक व मुख्यालय डीएसपी हितिका वासल (आईपीएस) ने घटना के अगले दिन से ही रामपुर में डेरा डाल दिया है। मंगलवार को टीआई राजेन्द्र मिश्रा और पूरी टीम के साथ उन्होंने छिबौरा चौकी में ही सभी संदेहियों से कड़ी पूछताछ करने के साथ ही कडिय़ों को जोडऩे का प्रयास किया। अब तक की जांच में मृतका के परिचितों पर ही हत्या का संदेह व्यक्त किया जा रहा है। इसी आधार पर गांव के दर्जन भर लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया जा चुका है। 
घर पर नहीं था पति
प्रारंभिक जांच में यह पता चला कि 9 अक्टूबर को घर में कुछ मेहमान आए थे, जिन्हें खाना खिलाने के बाद सविता के कहने पर दोपहर करीब डेढ़ बजे पति उपेन्द्र बुआ से मिलने रीवा चला गया था। वहां से शाम लगभग साढ़े 5 बजे वापस आया तो पत्नी घर पर नहीं मिली। तब उसने शारीरिक रूप से अशक्त पिता और बुजुर्ग मां से पूछा तो अनभिज्ञता जाहिर कर दी, तब युवक ने मोहल्ले-पड़ोस और गांव में पूछताछ करने के अलावा रिश्तेदारों से भी सम्पर्क किया, मगर पत्नी का पता नहीं चला तो उसने डायल 100 पर शिकायत कर दी। लिहाजा पुलिस गांव पहुंचकर खोजबीन में जुट गई। देर रात महिला की एक चप्पल घर के पीछे बने इंदारा के पास पड़ी मिली तो संदेह के आधार पर मोटर चालू कर पानी खाली किया गया, तब सविता की लाश ऊपर आ गई, जिसे बाहर निकालते हुए अस्पताल भेज दिया गया। 10 अक्टूबर को शव का पोस्टमार्टम कराया गया, जिसकी रिपोर्ट अगले दिन आई तो गले की हड्डी टूटने से अप्राकृतिक मौत का उल्लेख किया गया था, लिहाजा हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया।
परिवार के परिचित पर संदेह
घटना की परिस्थितियों को देखते हुए मृतका के पति, सास, ससुर और परिवार सहित सतना में रहने वाले जेठ को संदेह के दायरे से बाहर कर दिया गया। मृतका का बेटा भी बड़े पिता के साथ रहकर पढ़ाई करता है। इस घटना में परिवार के किसी करीबी इंसान अथवा महिला के परिचित का हाथ होने की बात पुलिस के द्वारा कही जा रही है। ऐसे तमाम संदेहियों को हिरासत में भी लिया गया है। दावा है कि जल्द से जल्द आरोपी बेनकाब कर दिए जाएंगे।
 

कमेंट करें
tcwST