दैनिक भास्कर हिंदी: BCCI ने कोचिंग स्टाफ के लिए मांगे आवेदन, हेड कोच के लिए उम्र की सीमा 60 साल से कम

July 17th, 2019

हाईलाइट

  • भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने नये स्टाफ की भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं।
  • एक या दो दिन में इन पदों के लिए वेबसाइट पर विज्ञापन जारी किया जाएगा
  • इच्छुक उम्मीदवार 30 जुलाई शाम पांच बजे तक अपने आवेदन BCCI को भेज सकते हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मौजूदा कोच और अन्य सहयोगी स्टाफ के कार्यकाल के खत्म होने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने नये स्टाफ की भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच, बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग कोच, फीजियो, स्ट्रैंथ एंड कंडीशनिंग कोच और एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर के लिए ये आवेदन मांगे गए हैं।

BCCI की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है, एक या दो दिन में इन पदों के लिए वेबसाइट पर विज्ञापन जारी किया जाएगा। इच्छुक उम्मीदवार 30 जुलाई शाम पांच बजे तक अपने आवेदन BCCI को भेज सकते हैं। जुलाई 2017 में रवि शास्त्री को मुख्य कोच के रूप में नियुक्त किए जाने से पहले, बीसीसीआई ने 9 पॉइंट एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया जारी किया था जिसमें फोकस और स्पष्टता की कमी थी। इस बार, बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण विभाग के कोच, मुख्य कोच सहित सभी कोचिंग भूमिकाओं के लिए यह केवल तीन पाइंट का है।

मुख्य कोच के आवेदन के लिए एप्लिकेंट के पास टेस्ट खेलने वाले देश को न्यूनतम दो साल कोचिंग देने का अनुभव होना चाहिए या असोसिएट सदस्य/ए टीम/आईपीएल टीम को तीन साल कोचिंग देने का अनुभव होना चाहिए। साथ ही आवेदक ने 30 टेस्ट या 50 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हों। मुख्य कोच के लिए उम्र की सीमा 60 साल है। बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण कोच के लिए नियमों में थोड़ा सा बदलाव है। इन पदों के आवदेन के लिए 10 टेस्ट या 25 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले होने चाहिए।

मौजूदा कोच रवि शास्त्री, गेंदबाजी कोच भरत अरुण, बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर का कार्यकाल वर्ल्ड कप के बाद समाप्त हो चुका है, लेकिन वेस्टइंडीज दौरे को देखते हुए इसे 45 दिन के लिए बढ़ाया गया है। शास्त्री 2017 में अनिल कुंबले की जगह कोच बने थे। मौजूदा कोचिंग स्टाफ को आवेदन करने की जरुरत नहीं पड़ेगी उन्हें ऑटोमैटिक एंट्री मिल जाएगी। 3 अगस्त से 3 सितंबर तक वेस्टइंडीज दौरे के बाद भारतीय टीम घरेलू सीरीज में 15 सितंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलेगी। इससे पहले नए कोच और सहयोगी स्टाफ का चयन होने की उम्मीद है।

बता दें कि शास्त्री की कोचिंग में भारतीय टीम आईसीसी का कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत सकी। इसमें वर्ल्ड कप भी शामिल है। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने में जरूर कामयाब रही।  

खबरें और भी हैं...