comScore

क्रिकेट: IPL की टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए BCCI ने निकाला टेंडर, यह जरूरी नहीं कि सबसे ऊंची बोली वाले को ही मिलेगा अधिकार

क्रिकेट: IPL की टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए BCCI ने निकाला टेंडर, यह जरूरी नहीं कि सबसे ऊंची बोली वाले को ही मिलेगा अधिकार

हाईलाइट

  • टाइटल प्रायोजक: बोलियां जमा करने की अंतिम तारीख 14 अगस्त
  • यह जरूरी नहीं कि सबसे ऊंची बोली वाले को ही मिलेगा अधिकार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के नए टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए टेंडर जारी कर दिया है। नए टाइटल प्रायोजक का BCCI के साथ करार साढ़े चार महीने के लिए होगा। बोलियां जमा करने की आखिरी तारीख 14 अगस्त है। अधिकार पाने वाले के नाम का ऐलान 18 अगस्त को किया जाएगा। यह जरूरी नहीं कि सबसे ऊंची बोली लगाने वाले को ही अधिकार दिए जाएं। BCCI ने सोमवार को इसकी जानकारी दी।

BCCI ने की 13-पॉइंट क्लॉज की घोषणा
सचिव जय शाह ने बोली लगाने वालों के लिए 13-पॉइंट क्लॉज की घोषणा की। इसमें कहा गया है कि नए टाइटल प्रायोजक के अधिकार 18 अगस्त, 2020 से 31 दिसंबर, 2020 तक की अवधि के लिए उपलब्ध हैं। इसके बारे में विस्तार से जानकारी उन्हीं पक्षों को दी जाएगी, जो EOI (एक्सप्रेस आफ इंटरेस्ट) जमा करेंगे और योग्य पाए जाएंगे। अंतिम ऑडिट किए गए खातों के अनुसार इच्छुक तीसरे पक्ष का टर्नओवर INR 300 करोड़ (केवल भारतीय तीन करोड़ रुपये) से अधिक होना चाहिए। 13-पॉइंट क्लॉज में BCCI ने ये स्पष्ट किया है कि सबसे ऊंची बोली लगाने वाले तीसरे पक्ष को अधिकार देने के लिए क्रिकेट काउंसिल बाध्य नहीं होगा। BCCI का फैसला कई अन्य बातों पर भी निर्भर करेगा।

VIVO ने पिछले हफ्ते छोड़ी थी टाइटल स्पॉन्सरशिप
बता दें कि, भारत और चीन के बीच विवाद के चलते चीनी मोबाइल फोन निर्माता कंपनी VIVO ने पिछले हफ्ते IPL 2020 के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप से अपना नाम वापस ले लिया था। BCCI ने भी शनिवार यानी 8 अगस्त को इस पर मुहर लगा दी थी। VIVO टाइटल स्पॉन्सशिप के लिए हर साल BCCI को 440 करोड़ रुपये का भुगतान करता था। कोरोनावायरस महामारी के चलते इस समय बाजार की हालत अच्छी नहीं है। इसलिए BCCI भी समझता है कि, एक साल के लिए कोई नई कंपनी शायद ही VIVO जितना भुगतान कर पाए।  VIVO के हटने के बाद अब योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि (Patanjali) भी टाइटल स्पॉन्सर बनने की दौड़ में शामिल हो गई है।

कंपनियां 14 अगस्त तक कर सकती हैं आवेदन
वहीं ऑनलाइन शॉपिंग दिग्गज कंपनी एमेजॉन, टाटा ग्रुप, अडानी ग्रुप, जियो, फैंटसी स्पोर्टस कंपनी ड्रीम 11, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, टीम इंडिया की जर्सी स्पॉन्सर और ऑनलाइन लर्निंग कंपनी बायजूज भी IPl 2020 का टाइटल स्पॉन्सर बनना चाहती हैं। 

कमेंट करें
Y8n9t