comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

इंडियन टीम के 300वें टेस्ट क्रिकेटर बने नटराजन, जानिए पहले, 100वें-200वें नंबर के खिलाड़ियों के बारे में  

इंडियन टीम के 300वें टेस्ट क्रिकेटर बने नटराजन, जानिए पहले, 100वें-200वें नंबर के खिलाड़ियों के बारे में  

हाईलाइट

  • अमर सिंह पहले, बबलू गुप्ता 100वें, मोंगिया 200वें और नटराजन 300वें टेस्ट क्रिकेटर
  • बुमराह, अश्विन, जडेजा और विहारी बाहर, नटराजन, सुंदर, अग्रवाल और ठाकुर अंदर
  • ऑफ स्पिनर नेथन लॉयन अपना 100वां टेस्ट खेल रहे हैं

डिजिटल डेस्क ( भोपाल)।   ऑस्ट्रेलिया ने यहां गाबा इंटरनेशनल स्टेडिमय में भारत के खिलाफ खेले जा रहे चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन शुक्रवार का अंत पांच विकेट के नुकसान पर 274 रनों के साथ किया। यह मैच कई तरह से भारत के लिए खास है। इस मैच में एक साथ दो खिलाड़ियों ने अपना टेस्ट डेब्यू किया है। साथ ही दोनों ही खिलाड़ी क्रमशः300 और 301वें खिलाड़ी बने हैं। आइए, जानते हैं इस मैच से जुड़ी कुछ खास बातें... 

अमर सिंह पहले, बबलू गुप्ता 100वें, मोंगिया 200वें और नटराजन 300वें टेस्ट क्रिकेटर

ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में शुक्रवार को तमिलनाडु के दो खिलाड़ियों ने एक साथ टेस्ट डेब्यू किया। तेज गेंदबाज टी. नटराजन और स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर का टेस्ट खेलने का सपना पूरा हुआ। आस्ट्रेलिया के साथ हुई सीमित ओवरों की सीरीज में खेल चुके नटराजन और सुंदर को मूल रूप से नेट बॉलर्स के तौर पर आस्ट्रेलिया लाए गए थे लेकिन किस्मत उनका साथ देती गई और उनके लिए नए दरवाजे खुलते गए।

अब नटराजन भारत के लिए टेस्ट खेलने वाले 300वें और सुंदर 301वें खिलाड़ी बन चुके हैं। तो फिर भारत का पहला, 100वां, 200वां टेस्ट क्रिकेटर कौन था? यह जानना भी जरूरी है। भारत ने 1932-33 सीजन में अपना पहला टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। उस सीरीज में भारतीय टीम के कप्तान सीके नायडू थे। इस लिहाज से वही भारत के पहले टेस्ट खिलाड़ी माने जा सकते हैं।

वैसे रिकार्ड बुक को देखें तो उस सीरीज में भारतीय ओपनर रहे ऑलराउंडर अमर सिंह को पहला भारतीय टेस्ट क्रिकेटर होने का गौरव प्राप्त है। अमर सिंह को सबसे पहले टेस्ट कैप सौंपा गया था। वह भारत के लिए सिर्फ टेस्ट खेल सके क्योंकि 29 साल की आयु में उनका निधन हो गया।

अमर सिंह सात टेस्ट मैचों में 292 रन बनाने के अलावा उन्होंने 28 विकेट भी लिए थे। सिंह के नाम भारत के लिए पहला टेस्ट अर्धशतक लगाने का रिकार्ड है। वह भारत के पहले तेज गेंदबाज थे। भारत के लिए टेस्ट खेलने वाले 100वें खिलाड़ी बबलू गुप्ते थे। मुम्बई निवासी गुप्ते ने नॉरी कांट्रेक्टर की कप्तानी में 1960-61 में डेब्यू किया था। वह भारत के लिए हालांकि सिर्फ तीन टेस्ट खेल सके थे।

भारत के लिए टेस्ट खेलने वाले 200वें खिलाड़ी का करियर हालांकि इससे काफी लम्बा था। विकेटकीपर बल्लेबाज नयन मोंगिया ने 1994 में श्रीलंका के खिलाफ लखनऊ में डेब्यू किया था। वह भारत के लिए 44 टेस्ट मैचों में खेले। मोंगिया ने 24 के औसत से 1442 रन बनाए, जिसमें एक शतक और छह अर्धशतक शामिल हैं।

बुमराह, अश्विन, जडेजा और विहारी बाहर, नटराजन, सुंदर, अग्रवाल और ठाकुर अंदर

चोट से बेहाल भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार को यहां शुरु हुए चौथे टेस्ट में चार बदलाव करने को मजबूर हुई। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, बल्लेबाज हनुमा विहारी और ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा बाहर हुए हैं जबकि तमिलनाडु के टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर डेब्यू कर रहे हैं।

इसके अलावा तेज गेंदबाज शार्दूल ठाकुर और बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को मैदान में उतरने का मौका मिला है। यूएई में आयोजित आईपीएल-13 के बाद नेट बॉलर्स के रूप में आस्ट्रेलिया लाए गए सुंदर और नटराजन के लिए यह अजीब संयोग है। किस्मत के भरोसे नटराजन सीमित ओवरों की सीरीज में भी खेलने में सफल रहे और अब भारत के 300वें टेस्ट खिलाड़ी के तौर पर डेब्यू कर रहे हैं।

बुमराह के पेट की मांसपेशियों में खिंचाव है। उन्हें लेकर संदेह की स्थिति थी और इसी कारण भारतीय टीम प्रबंधन ने इस मैच के प्लेइंग-11 की घोषणा के लिए आज तक का समय लिया। अश्विन और विहारी सिडनी में भारत को ऐतिहासिक बराबरी दिलाने के दौरान चोटिल हो गए थे। जडेजा को सिडनी टेस्ट की पहली पारी के दौरान बल्लेबाजी करते हुए हाथ में चोट लगी थी।

सुंदर और शार्दूल सीमित ओवर की सीरीज में खेले थे। जहां तक अग्रवाल की बात है तो वह मेलबर्न और एडिलेड टेस्ट में खेले थे लेकिन बल्ले से निराश किया था। अब हालांकि वह बल्लेबाजी क्रम में पांचवें स्थान पर हैं। इस सीरीज के आंकड़ों पर गौर करें तो वे काफी चौंकाने वाले हैं। भारत ने इस सीरीज में अब तक 19 खिलाड़ियों को आजमाया है। 1961-62 सत्र के बाद यह सबसे बड़ी संख्या है। विदेशी धरती पर खेलते हुए भारत ने अधिकतम 17 खिलाड़ियों का उपयोग किया है।


वहीं, आस्ट्रेलिया के चैम्पियन ऑफ स्पिनर नेथन लॉयन अपना 100वां टेस्ट खेल रहे हैं। मेजबान टीम ने गुरुवार को ही अपना प्लेइंग-11 घोषित कर दिया था। विल पुकोवस्की चोटिल हैं। उनके स्थान पर मार्कस हैरिस को मौका दिया गया है।  भारत के लिए टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर डेब्यू कर रहे हैं। सिडनी टेस्ट में चोटिल हुए तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, हरफनमौला रवींद्र जडेजा और बल्लेबाज हनुमा विहारी नहीं खेल रहे हैं।

टीमें :

आस्ट्रेलियाई टीम : टिम पेन (कप्तान-विकेटकीपर), डेविड वार्नर, मार्कस हैरिस, मार्नस लाबुशैन, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड, कैमरून ग्रीन, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, नाथन लॉयन, जोश हेजलवुड।

भारतीय टीम : अजिंक्य रहाणे (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, शुभमन गिल, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), नवदीप सैनी, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद सिराज, शार्दूल ठाकुर, टी.नटराजन।
 
 

कमेंट करें
xQy8W
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।