comScore

IND vs ENG T20: वर्ल्ड कप से पहले ‘बेस्ट’ का टेस्ट आज से, इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज जीत की हैट्रिक के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

IND vs ENG T20: वर्ल्ड कप से पहले ‘बेस्ट’ का टेस्ट आज से, इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज जीत की हैट्रिक के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

हाईलाइट

  • भारत और इंग्लैंड खेलेंगे पांच मैचों की टी-20 सीरीज
  • शुक्रवार को खेला जाएगा पहला मुकाबला
  • अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में होंगे सभी मुकाबले

डिजिटल डेस्क, अहमदाबाद। टीम इंडिया शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ पांच टी-20 मैचों की सीरीज में दो-दो हाथ करने उतरेगी। टेस्ट सीरीज 3-1 से अपने नाम करने के बाद विराट सेना के हौसले बुलंद हैं। भारत में इसी साल अक्तूबर में टी-20 वर्ल्ड कप का आयोजन होना है, ऐसे में विराट एंड कंपनी कल से शुरू हो रही टी-20 सीरीज का पूरा फायदा उठाना चाहेगी और अपने सारे विकल्पों को आजमाना चाहेगी।

 विराट और टीम प्रबंधन इस बात पर जोर दे रहा है कि वे इस सीरीज के जरिए अपने कोर ग्रुप को तैयार करने की कोशिश करेंगे। वहीं कुछ ऐसी ही योजना दुनिया की नंबर एक टी-20 टीम इंग्लैंड की भी है। इंग्लैंड के खिलाड़ी भी कह चुके हैं कि भारत में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप से पहले यह सीरीज उनके लिए काफी मददगार साबित होगी। दुनिया की दो सबसे मजबूत टीमों के बीच जोरदार मुकाबले होने की पूरी उम्मीद है।

छवि

खबर में खास

  • भारतीय टीम टी-20 में वह पिछले सात सीरीज से अजेय है। 
  • टी-20 क्रिकेट में किसी द्विपक्षीय सीरीज में आखिरी बार फरवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया से 2-0 से हारी थी भारतीय टीम।
  • इसके बाद भारतीय टीम वेस्टइंडीज को दो बार और बांग्लादेश, श्रीलंका, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया को 1-1 बार हरा चुकी है। साउथ अफ्रीका से सीरीज ड्रॉ रही थी।
  • इंग्लैंड की टीम किसी टी-20 सीरीज में भारत को पिछले पांच साल से नहीं हरा पाई है।
  • भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ पिछली दो द्विपक्षीय टी-20 श्रृंखलाओं को अपने नाम किया है। 
  • 2017 में भारत में खेली गई सीरीज को टीम इंडिया ने 2-1 से जीता था। 
  • 2018 में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को उसी की धरती पर तीन मैचों की सीरीज में 2-1 से हराया था।
  • ऐसे में अगर विराट एंड कंपनी इस सीरीज को भी जीत लेती है तो इंग्लैंड के खिलाफ यह उसकी हैट्रिक जीत होगी।

छवि

दूसरी बार पांच मैचों की सीरीज खेलेगी भारतीय टीम
यह सिर्फ दूसरा मौका होगा, जब टीम इंडिया पांच टी-20 मैचों की द्विपक्षीय सीरीज में उतरेगी। इससे पहले भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2020 की शुरुआत में पांच मैचों की सीरीज खेली थी। ICC वर्ल्ड टी-20 को ध्यान में रखते हुए अभी टीमें टी-20 मैचों पर वनडे की तुलना में ज्यादा जोर दे रही हैं। इसी साल भारत में वर्ल्ड टी-20 का आयोजन होना है।

इंग्लैंड के खिलाफ बराबरी का मौका
भारत ने भले ही इंग्लैंड के खिलाफ पिछली दो टी-20 सीरीज में जीत हासिल की है, लेकिन उससे पहले इंग्लैंड की टीम चार में से तीन द्विपक्षीय सीरीज में भारत को मात दे चुकी है। उन तीनों सीरीज में 1-1 मैच ही खेले गए थे। 2012 में दो मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी। यानी अगर इस बार भारतीय टीम जीत हासिल करती है तो वह तीन सीरीज की जीत के साथ इंग्लैंड की बराबरी कर लेगी।

प्लेइंग इलेवन पर माथापच्ची
टीम इंडिया के पास हर स्थान के लिए कई विकल्प मौजूद हैं और ऐसे में यह कप्तान के लिए अच्छी खबर तो है ही लेकिन सिरदर्दी भी है। टीम इंडिया अधिक प्रयोग करने से बचना चाहेगी तो साथ ही अपने विकल्पों और बेंच स्ट्रेंथ को भी परखना चाहेगी। पुराने अनुभव को देखते हुए कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री चाहेंगे कि वे फैसला कर लें कि टी-20 विश्व कप में रोहित शर्मा के साथ पारी का आगाज कौन करेगा। इनके पास लोकेश राहुल और शिखर धवन के रूप में दो विकल्प मौजूद हैं। 

प्रतिभा को देखते हुए सीमित ओवरों की अंतिम एकादश में राहुल का चयन लगभग तय है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वैश्विक प्रतियोगिता में धवन का प्रदर्शन हमेशा शानदार रहा है और वह टीम के अनुभवी खिलाड़ी भी हैं। कोहली अगर धवन को मौका देने का फैसला करते हैं तो राहुल को चौथे नंबर पर उतरना पड़ सकता है। यह मुश्किल फैसला है जो कोहली को लेना है क्योंकि अगर ये दोनों खेलते हैं तो श्रेयस अय्यर या वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद टीम में जगह बनाने वाले सूर्यकुमार यादव को बाहर बैठना होगा। श्रेयस और सूर्यकुमार चौथे या पांचवें नंबर पर आक्रामक बल्लेबाजी का विकल्प मुहैया कराते हैं और टीम प्रबंधन इसका पूरा फायदा उठाने का प्रयास करेगा।

टीमें इस प्रकार हैं:
भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, शारदुल ठाकुर, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, राहुल तेवतिया, इशान किशन (रिजर्व विकेटकीपर)।

इंग्लैंड:
इयोन मोर्गन (कप्तान), जोस बटलर, जेसन रॉय, लियाम लिविंगस्टोन, डेविड मलान, बेन स्टोक्स, मोईन अली, आदिल राशिद, रीस टॉपले, क्रिस जोर्डन, मार्क वुड, सैम कुरेन, टॉम कुरेन, सैम बिलिंग्स, जॉनी बेयरस्टो और जोफ्रा आर्चर। 
 

कमेंट करें
hmkgF