comScore

धोनी में अभी काफी क्रिकेट बाकी, संन्यास का फैसला पूरी तरह से उनका ही होगा: शेन वॉटसन

धोनी में अभी काफी क्रिकेट बाकी, संन्यास का फैसला पूरी तरह से उनका ही होगा: शेन वॉटसन

हाईलाइट

  • वॉटसन ने कहा, संन्यास का फैसला दो बार के विश्व विजेता कप्तान धोनी का अपना निजी फैसला होगा
  • वॉटसन ने विराट की तारीफ की, कहा- उन्होंने भारतीय टीम के लिए अब तक अच्छा काम किया है

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। भारतीय क्रिकेट 'टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास का मुद्दा चर्चा का केंद्र बना हुआ है। चेन्नई सुपर किंग्स में धोनी की कप्तानी में खेलने वाले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी शेन वॉटसन का मानना है कि, संन्यास का फैसला दो बार के विश्व विजेता कप्तान का अपना निजी फैसला होगा, यह पूरी तरह से उन्हीं पर है कि, वह कब संन्यास लेना उचित समझते हैं। वॉटसन मानते हैं कि, धोनी में अभी भी काफी दमखम है।

यहां एक कार्यक्रम में शिरकत करने आए वॉटसन ने संवाददाताओं से कहा, उनके पास अभी भी योग्यता है, लेकिन इसका फैसला उन पर है। वह अभी भी अविश्वसनीय तरीके से मूव करते हैं, तेजी से रन भागते हैं और उनके हाथ अभी भी मजबूत हैं। वो जो भी करते हैं, वह सही होता है क्योंकि वह जानते हैं कि आगे क्या है।

चेन्नई से पहले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर में विराट कोहली की कप्तानी में खेल चुके वॉटसन ने अपने पूर्व कप्तान की भी तारीफ की है। वॉटसन का कहना है कि, विराट ने भारतीय टीम के लिए अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा, कोहली ने भारतीय टीम के लिए बेहतरीन काम किया है। वह सभी प्रारूप में अच्छा खेल रहे हैं। वह इस समय जो भी कर रहे हैं, वह निश्चित तौर पर काम कर रहा है और टीम उनकी कप्तानी पर अच्छी प्रतिक्रिया दे रही है।

वॉटसन से जब पूछा गया कि, क्या भारत विश्व क्रिकेट पर उसी तरह राज कर सकता है जिस तरह स्टीव वॉ और रिकी पोंटिंग की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने किया था, तो उन्होंने कहा, चीजों को दोहराना काफी मुश्किल होता है लेकिन भारत ऐसा नहीं कर पाएगा, इसका कोई कारण मुझे नजर नहीं आता। उन्होंने कहा, भारत के पास सभी विभागों में गहराई है.. बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग। भारतीय क्रिकेट की गहराई काफी मजबूत है। उसके पास रोहित शर्मा जैसा बल्लेबाज है जो पारी की शुरुआत करता है और बहुत सारे रन बनाता है। मुझे पूरा विश्वास है कि यह टीम घर से बाहर भी जीत सकती है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम के बारे में वॉटसन ने कहा कि, स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के आने से ऑस्ट्रेलियाई टीम काफी मजबूत हो गई है। वॉटसन ने कहा, ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ पिछले साल समस्याएं थी। अब चूंकि स्मिथ और वार्नर वापस आ गए हैं और अच्छी तरह टीम में सेट हो गए हैं तो यह टीम काफी मजबूत बन गई है। नंबर-3 पर टीम के पास मार्नस लाबुशाने जैसा खिलाड़ी है, जिन्होंने एशेज सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है। तेज गेंदबाज टीम के पास अच्छे हैं और टीम में गहराई भी है। नाथन लॉयन अच्छा कर रहे हैं। हमारी टीम के पास अच्छी गहराई है।

कमेंट करें
ZGMtw