comScore

गांगुली होंगे BCCI के नए अध्यक्ष, 23 अक्टूबर को होगी आधिकारिक घोषणा

गांगुली होंगे BCCI के नए अध्यक्ष, 23 अक्टूबर को होगी आधिकारिक घोषणा

हाईलाइट

  • सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नए अध्यक्ष चुने गए
  • BCCI के पूर्व सदस्य राजीव शुक्ला ने कहा, गांगुली के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा 23 अक्टूबर को होगी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नए अध्यक्ष चुने गए हैं। BCCI के पूर्व सदस्य राजीव शुक्ला ने कहा कि, हमने सौरव गांगुली को BCCI अध्यक्ष के रूप में चुना है। जिसकी आधिकारिक घोषणा 23 अक्टूबर को की जाएगी। 

वहीं जय शाह और अरुण धूमल क्रमशः बीसीसीआई सचिव और कोषाध्यक्ष पदों के लिए निर्विरोध चुने गए हैं। राष्ट्रीय निकाय 23 अक्टूबर को ही आधिकारिक तौर पर गांगुली की टीम नियुक्त करेगी।

सौरव गांगुली ने मुंबई में बीसीसीआई के अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के बाद कहा कि, एक ऐसा पद जहां मैं टीम के साथ अंतर कर सकता हूं, बेहद संतोषजनक होगा। उम्मीद है कि, अगले कुछ महीनों में हम भारतीय क्रिकेट में सामान्य स्थिति ला सकते हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गांगुली को सोशल मीडिया पर बधाई दी है। ममता बनर्जी ने ट्वीट करते हुए लिखा, "सर्वसम्मति से बीसीसीआई का अध्यक्ष चुने जाने पर सौरव गांगुली को बहुत-बहुत बधाई। आपको इस कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं। आपने भारत और बंगाल को गर्व के पल दिए हैं। हमें सीएबी अध्यक्ष के रूप में आपके कार्यकाल पर गर्व है। नई पारी शानदार रहने की उम्मीद है।

इससे पहले गांगुली सोमवार दोपहर को मुंबई स्थित कार्यालय में BCCI अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के लिए पहुंचे थे। गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह भी BCCI सचिव के पद के लिए अपना नामांकन दाखिल करने के लिए उपस्थित रहे। इन दोनों के अलावा पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन और पूर्व आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला भी मौजूद रहे। बता दें कि, रविवार को हुई बैठक में बीसीसीआई के अगले अध्यक्ष पद के लिए गांगुली के नाम पर मुहर लगा दी गई थी।

गांगुली का मानना है कि, क्रिकेट जगत के सबसे बड़े संगठन के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालना उनके लिए बहुत बड़ी चुनौती होगी। उन्होंने कहा, होने वाली नियुक्ति से मैं खुश हूं। क्योंकि यह वह समय है जब बीसीसीआई की छवि लगातार खराब हो रही है और यह मेरे लिए कुछ करने का अच्छा मौका है। आप चाहे निर्विरोध चुने गए हों या नहीं, लेकिन यह एक बड़ी जिम्मेदारी है क्योंकि यह क्रिकेट की दुनिया का सबसे बड़ा संगठन है। क्रिकेट के क्षेत्र में भारत एक शक्तिशाली देश है और यह एक बड़ी चुनौती होगी। 

इसके अलावा पूर्व भारतीय बल्लेबाज बृजेश पटेल आईपीएल के अगले चेयरमैन होंगे। इस पद का प्रस्ताव पहले गांगुली को दिया गया था, लेकिन उन्होंने यह पद संभालने से मना कर दिया था। 47 वर्षीय गांगुली का कार्यकाल एक साल से भी कम समय के लिए ही होगा क्योंकि नए नियमों के मुताबिक, अगले साल जुलाई के बाद वह कूलिंग ऑफ पीरियड में चले जाएंगे। वह फिलहाल बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष के पद पर काम कर रहे हैं।

बीसीसीआई के नए नियमों के अनुसार, एक प्रशासक लगातार केवल छह साल तक ही अपनी सेवाएं दे सकता है। गांगुली ने कहा, यह नियम है, इसलिए हमें इसका पालन करना होगा। मेरी पहली प्राथमिकता प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों पर ध्यान देने की होगी। क्रिकेटरों के वित्तीय हित का ध्यान रखने के लिए रणजी ट्रॉफी क्रिकेट पर भी ध्यान दिया जाएगा।

सौरव गांगुली ने भारत के लिए 113 टेस्ट मैच खेले हैं और उसमें 7212 रन बनाए हैं। वहीं 311 वनडे में सौरव गांगुली ने 11363 रनों का योदगान दिया है। उनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने विश्वकप के फाइनल तक का सफर तय किया था। 

कमेंट करें
xy1sr