दैनिक भास्कर हिंदी: संन्यास के बाद सामने आया रैना का भावुक संदेश, पत्र लिखकर कहा- आप सभी का शुक्रिया

August 17th, 2020

हाईलाइट

  • सुरेश रैना ने उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया, जिन्होंने उनके अंतर्राष्ट्रीय करियर को बनाने में मदद की
  • रैना ने धोनी के संन्यास के कुछ मिनट बाद ही शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना ने रविवार को अपने इंस्टाग्राम पर एक खास संदेश पोस्ट करते हुए उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया, जिन्होंने उनके अंतर्राष्ट्रीय करियर को बनाने में मदद की। रैना ने महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के कुछ मिनट बाद ही शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी। रैना और धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हैं।

33 साल के रैना ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, बहुत सारी मिश्रित भावनाओं के साथ मैं अपने संन्यास का ऐलान कर रहा हूं। बहुत ही छोटी उम्र से इस लड़के ने अपने शहर की हर गली, नुक्कड़ में क्रिकेट को जीया है और तब जाकर टीम इंडिया में प्रेवश किया। मुझे सिर्फ क्रिकेट ही पता था और वही खेलना आता था। मेरी नसों में क्रिकेट दौड़ता है।

जिन लोगों ने इस उतार-चढ़ाव में मेरा साथ दिया उनका बहुत-बहुत शुक्रिया
रैना ने कहा, मैंने भगवान से दुआ मांगी जो कबूल हुई और लोगों ने मेरे लिए प्रार्थना भी किया। उन्हीं का आशीर्वाद था जो मैं यहां तक पहुंचा और उसे गेम तक लेकर गया। मेरी कई सारी सर्जरी हुईं, जब मुझे लगा कि अब मुझे यहीं रूक जाना चाहिए, लेकिन मैं रुका नहीं और आगे बढ़ता गया। मेरे लिए ये सफर बेहद शानदार था और जिन लोगों ने इस उतार-चढ़ाव में मेरा साथ दिया उनका बहुत-बहुत शुक्रिया।

रैना ने कहा, सफर आसान नहीं हो पाता अगर मेरा परिवार, मेरी प्यारी पत्नी प्रियंका, मेरी बेटियां ग्रासिया और रियो, मेरी बहनें और मेरा पूरा परिवार मेरा साथ नहीं देता। अगर ये सब नहीं होते तो कुछ नहीं होता। मेरे कोच, मेरे ट्रेनर्स, मेरे फिजिशियन्स सभी ने मेरा साथ दिया जिनकी बदौलत मैं यहां तक पहुंचा हूं।

रैना ने कहा, ये सबकुछ मुमकिन नहीं हो पाता अगर टीम इंडिया के साथियों का मुझे सपोर्ट नहीं मिलता। मैं काफी खुशकिस्मत हूं कि मुझे इतने बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिला। वहीं मैं भाग्यशाली भी हूं कि मैंने बेहतरीन कप्तानों के साथ खेला जिमसें राहुल भाई, अनिल भाई, सचिन पाजी, चीकू और खासकर एक दोस्त की तरह गाइड करने वाले धोनी शामिल हैं।

रैना ने कहा, मैं बीसीसीआई का धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने यूपी के एक लड़के को टीम इंडिया में खेलने का मौका दिया। अंत में मैं अपने फैंस का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। जिन्होंने पूरे सफर के दौरान मेरा साथ दिया। हमेशा मेरा साथ देने के लिए तहे दिल से आप सभी का शुक्रिया। फॉरएवर टीम इंडिया। जय हिंद।

रैना ने 226 वनडे मैचों में 5615 रन और 78 टी 20 मैचों में 1,605 रन बनाए हैं। टी 20 में शतक बनाने वाले वह पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 18 टेस्ट मैचों में 768 रन बनाए हैं। वह 2011 विश्व कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रह चुके हैं।

खबरें और भी हैं...