comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

विराट बोले- स्पिनिंग ट्रैक टॉकिंग पॉइंट बन जाता है, लेकिन सीमिंग ट्रैक पर मैच जल्द खत्म हो जाए तो कोई कुछ नहीं बोलता

March 03rd, 2021 17:25 IST
विराट बोले- स्पिनिंग ट्रैक टॉकिंग पॉइंट बन जाता है, लेकिन सीमिंग ट्रैक पर मैच जल्द खत्म हो जाए तो कोई कुछ नहीं बोलता

हाईलाइट

  • पिच पर सवाल उठाने वालों को जवाब
  • कोहली बोले- न्यूजीलैंड में हम 3 दिन में हारे, तब कोई नहीं बोला
  • आप जीत के लिए मैदान पर आते हैं या 5 दिन खेलने के लिए?

डिजिटल डेस्क, अहमदाबाद। मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में दो दिनों में मैच खत्म होने से पिच को लेकर मचे बवाल पर भारतीय कप्तान विराट कोहली का बयान सामने आया है। विराट कोहली ने कहा, स्पिनिंग ट्रैक अकसर टॉकिंग पॉइंट बन जाता है, लेकिन सीमिंग ट्रैक पर जब मैच तीन दिनों में खत्म हो जाता है तो कोई बात नहीं करता। बता दें कि भारत ने मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में तीसरे टेस्ट में दो दिनों के भीतर इंग्लैंड को दस विकेट से हराने में कामयाबी हासिल की थी। इस मैच में भारतीय स्पिनरों का जलवा देखने को मिला था।

कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ गुरुवार से शुरू हो रहे चौथे और आखिरी टेस्ट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि तीसरे टेस्ट में भारत और इंग्लैंड दोनों ही टीम गेंदबाजी का सामना करने में नाकाम रही थी। इसमें स्किल्स का महत्व था, न कि पिच बुरी थी। हमारा फोकस पिच पर नहीं, खुद को मजबूत करने पर है। उन्होंने कहा- स्पिनिंग ट्रैक को लेकर विपक्षी बहुत कुछ कह रहे हैं। मुझे लगता है कि हमारी मीडिया को उन्हें जवाब देना चाहिए। उन्हें बताना चाहिए कि भारतीय महाद्वीप में ऐसी ही पिचें मिलती हैं। एक बल्लेबाज के रूप में मेरा फोकस सिर्फ इसी पर है कि मैं स्कोर करूं और भारतीय टीम के लिए मैच जीत सकूं।

कैप्टन कोहली ने न्यूजीलैंड में भारत को मिली एक हार का जिक्र किया जिसमें टीम तेज गेंदबाजों के मुफीद पिच पर जूझ रही थी। उन्होंने कहा कि किस तरह तब पिच की नहीं बल्कि बल्लेबाजों की तकनीक की आलोचना की गई थी। उन्होंने कहा, ‘हम न्यूजीलैंड में 36 ओवर में तीसरे दिन ही हार गए थे। मुझे पूरा भरोसा है कि हमारे यहां किसी ने भी पिच के बारे में नहीं लिखा था। इसमें सिर्फ यही था कि भारत न्यूजीलैंड में कितना खराब खेला।’ कोहली ने कहा, ‘किसी भी पिच की आलोचना नहीं की गई थी, पिच कैसा बर्ताव कर रही थी, गेंद कितनी मूव कर रही थी, पिच पर कितनी घास थी, इसे देखने कोई नहीं आया।’

कमेंट करें
5f0Bu