दैनिक भास्कर हिंदी: दगडूशेठ हलवाई, 40 किग्रा सोने से सुसज्जित है प्रतिमा, देखें VIDEO

August 29th, 2018

डिजिटल डेस्क, पुणे। महाराष्ट्र में स्थित श्रीमंत दगडूशेठ हलवाई गणपति मंदिर भगवान श्री गणेश को समर्पित है। विघ्नहर्ता मंगलमूर्ति श्री गणेश को गणपति, विनायक, गजानन और बप्पा नाम से भी पूजा जाता है। यह मंदिर सौ वर्षों से भी अधिक पुराना बताया जाता है। इसका निर्माण दगड़ूशेठ हलवाई नामक एक प्रसिद्ध हलवाई और धनी व्यापारी ने करवाया था। गणेश उत्सव के दौरान इस मंदिर की भव्यता देखते ही बनती है। 

7.5 फीट ऊंची और 4 फीट चौड़ी

यह मंदिर 1893 में बनकर तैयार हुआ था। यहां भगवान श्री गणेश की 7.5 फीट ऊंची और 4 फीट चौड़ी, तक़रीबन 40 किग्रा सोने से सुसज्जित प्रतिमा स्थापित है। इस मंदिर का निर्माण बड़ी ही खूबसूरती से इस प्रकार किया गया है कि बप्पा की अद्भुत प्रतिमा मंदिर के बाहर से ही दिखाई देती है। मंदिर के मुख्य प्रवेश द्वार पर जय और विजय नामक दो प्रहरियों की संगमरमर की मूर्तियां भी स्थित हैं। 

विदेशों में भी प्रसिद्ध 

मन्नत पूरी होने पर भ्क्ताें ने यहां बप्पा काे चढ़ावा चढ़ाया जिससे मंदिर आैर धनी हाेता गया। श्रीमंत दगड़ूशेठ गणपति ट्रस्ट इस मंदिर की देखरेख करती है। यह मंदिर पूरे देश में ही नहीं, बल्कि विदेशों में भी प्रसिद्ध है।