comScore

COVID 19: पूरी दुनिया में 47 हजार से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है कोरोना वायरस, इससे बचना है तो इस देवता को करें प्रसन्न

COVID 19: पूरी दुनिया में 47 हजार से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है कोरोना वायरस, इससे बचना है तो इस देवता को करें प्रसन्न

हाईलाइट

  • गुरु पर राहु के प्रभुत्व के कारण फैला कोरोना वायरस
  • यमुना की पूजा से बेअसर हो सकता है कोरोना का दुष्प्रभाव

डिजिटल डेस्क, आगरा। कोरोना वायरस करीब 104 देशों में फैल चुका है। इस वायरस की चपेट में आने से अब तक पूरी दुनिया में 47,516 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 9,40,622 लोग संक्रमित हैं। भारत में अब तक 2113 मरीज इस वायरस से पीड़ित हैं और 62 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए कई तरह की भ्रांतियां सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। वहीं अलग-अलग चिकित्सा पद्धति से उपचार करने वाले विशेषज्ञों ने बचाव के तरीके बताए हैं। ऐसे में भला ज्योतिष विज्ञान इससे क्यों पी​छे रहे। आगरा के एक प्रसिद्ध ज्योतिषी और मशहूर पर्यावरणविद् का मानना है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देवताओं को प्रसन्न करना चाहिए। पर्यावरणविदों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार शाम यमुना घाट पर एक हवन का आयोजन किया, जिसमें कोविड-19 को रोकने के लिए दिव्य हस्तक्षेप का आह्वान किया गया।

गुरु पर राहु के प्रभुत्व के कारण फैला कोरोना वायरस
वैदिक सूत्रम् के अध्यक्ष, प्रसिद्ध ज्योतिषी प्रमोद गौतम ने यह अनुष्ठानिक हवन आयोजित किया था। उन्होंने कहा कि गुरु पर राहु के प्रभुत्व के कारण कोरोना वायरस परेशानी पैदा कर रहा है, जिसके कारण यह नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न हुई है।

यमुना की पूजा से बेअसर हो सकता है कोरोना का दुष्प्रभाव
रिवर कनेक्ट अभियान के पंडित जुगल किशोर ने कहा कि यमुना, मृत्यु के देवता यमराज की बहन हैं। उन्हें खास पूजा के जरिए प्रसन्न किया जा रहा है। इससे कोरोना दुष्प्रभाव बेअसर होगा। रिवर कनेक्ट अभियान के देवाशीष भट्टाचार्य ने कहा कि ये मंत्र वायरस को खत्म कर देंगे और सभी की स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सकारात्मक ऊर्जा जारी करेंगे।

कमेंट करें
r1tQx