comScore

Eid 2020: आज देशभर में मनया जा रहा ईद का त्यौहार, पीएम मोदी ने देशवासियों को दी मुबारकबाद


हाईलाइट

  • देशभर में मनाया जा रहा ईद का त्यौहार
  • कोरोना के चलते घरों में ही नमाज पढ़ने की अपील

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रविवार शाम चांद का दीदार होने के बाद आज (सोमवार,25 मई) दुनियाभर में ईद-उल-फित्र (Eid-ul-Fitr) का त्यौहार मनाया जा रहा है। इस बार कोरोनावायरस (Coronavirus) लॉकडाउन (lockdown) के चलते राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की जामा मस्जिद सभी राज्य और शहरों में मस्जिदें बंद हैं। ऐसे में लोग एक-दूसरे को सोशल मीडिया के जरिए भी मुबारकबाद दे रहे हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देशवासियों को ट्वीट के जरिए ईद की बधाई दी है। 

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'ईद-उल-फितर पर बधाई। इस विशेष अवसर पर करुणा, भाईचारे और सद्भाव की भावना को आगे बढ़ाएं। सभी लोग स्वस्थ और समृद्ध रहें।'

इससे पहले ईद की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने देशवासियों को इस पर्व के लिए बधाई दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लोगों को सलाह दी कि वे कोरोनावायरस से सुरक्षित रहने के लिए ईद उल-फित्र मनाते समय सामाजिक दूरी के मानदंड और अन्य सभी सावधानियों का अनुपालन करें व अन्य सभी एहतियात बरतें।

राष्ट्रपति ने सभी देशवासियों सहित उन भारतीयों को भी ईद की बधाई दी, जो विदेशों में बसे हुए हैं। यह त्योहार रमजान के उपवास के समापन का प्रतीक है। राष्ट्रपति ने कहा कि त्योहार प्रेम, शांति, भाईचारे और सौहार्द का प्रतीक है। उन्होंने लोगों से इस अवसर पर समाज के सबसे कमजोर वर्गों के साथ खुशियां साझा करने और उनकी देखभाल करने का आग्रह किया। राष्ट्रपति ने संदेश में कहा, आइए हम मदद और दान (जकात) देने की भावना को और अधिक मजबूती के साथ अपनाएं जब हमें कोविड-19 के कारण अप्रत्याशित संकट का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा, हम भी सुरक्षित रहने के लिए और इस चुनौती को दूर करने के लिए सामाजिक दूरी के मानदंडों और अन्य सभी सावधानियों का पालन करने का संकल्प लें। यह ईद-उल-फित्र दुनिया में दया, दान और आशा के सार्वभौमिक मूल्यों का सूत्रपात करे।

वहीं उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कामना की, 'ईद-उल-फितर से जुड़े महान आदर्श हमारे जीवन में स्वास्थ्य, शांति, समृद्धि और सद्भाव लेकर आएं। 

4 से 5 लोग ही मस्जिदों में अदा करेंगे ईद की नमाज
कोरोना वायरस संकट को देखते हुए देशभर में सभी मस्जिदें बंद हैं, इसलिए सरकार की ओर से मस्जिद में नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं है। मौलाना और उलेमाओं ने घर में ही ईद की नमाज अता करने की अपील की है। इसके अलावा ईद पर गले न मिलने और सोशल मीडिया के माध्यम से मुबारकबाद के लिए कहा गया है। वहीं महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक ने रविवार को कहा कि मुस्लिम समुदाय के लोग ईद के मौके पर जमात के साथ नमाज अदा नहीं करेंगे। केवल 4 से 5 लोग ही मस्जिदों और ईदगाह में नमाज अदा करेंगे।

कमेंट करें
hWz4A