comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

शारदीय नवरात्रि मां दुर्गा के इन स्वरूपों की करें पूजा

शारदीय नवरात्रि मां दुर्गा के इन स्वरूपों की करें पूजा

डिजिटल डेस्क। हिन्दू धर्म में त्यौहारों का बड़ा महत्व है और इसकी शुरुआत गणेश चतुर्थी यानी कि गणेश उत्सव के साथ हो चुकी है और अब नवरात्रि का पर्व आने वाला है। जब पूरे नौ दिनों तक मांग दुर्गा की पूजा और आराधना की जाती है। शास्त्रों में मां दुर्गा के नौ रूपों का बखान किया गया है, जिनकी पूजा नवरात्रि में विशेष रूप से की जाती है। हिंदू पंचांग के अनुसार इस बार शारदीय नवरात्रि 29 सितंबर से शुरू होकर 7 अक्टूबर तक चलेगी।

शक्ति और भक्ति के इस पर्व में सभी लोग श्रद्धा और यथा शक्ति के अनुसार मां भगवती की आराधना करते हैं। कलश स्थापना के लिए भूमि को शुद्ध किया जाता है। गोबर और गंगा जल से जमीन को लीपा जाता है। विधि-विधान के अनुसार इस स्थान पर अक्षत और कुमकुम मिलाकर डाला जाता है। इस पर कलश स्थापित होता है। इसके बाद अखंड ज्योत जलाई जाती है जो पूरे नवरात्र तक जलती है। 

इस वर्ष 8 अक्टूबर को दुर्गा विसर्जन किया जाएगा। 8 अक्टूबर को ही विजयदशमी यानी दशहरा मनाया जाएगा। आइए जानते हैं इस बार दुर्गा के नौ स्वरूपों की उपासना की तिथियां...

29 सितंबर
प्रतिपदा: नवरात्रि का पहला दिन- घट/ कलश स्थापना - शैलपुत्री

30 सितंबर
द्वितीया: नवरात्रि 2 दिन तृतीय- ब्रह्मचारिणी पूजा

1 अक्टूबर
तृतीया: नवरात्रि का तीसरा दिन- चंद्रघंटा पूजा

2 अक्टूबर
चतुर्थी: नवरात्रि का चौथा दिन- कुष्मांडा पूजा

3 अक्टूबर
पंचमी: नवरात्रि का 5वां दिन- सरस्वती पूजा, स्कंदमाता पूजा

4 अक्टूबर
षष्ठी: नवरात्रि का छठा दिन- कात्यायनी पूजा

5 अक्टूबर
सप्तमी: नवरात्रि का सातवां दिन- कालरात्रि, सरस्वती पूजा

6 अक्टूबर
अष्टमी: नवरात्रि का आठवां दिन-महागौरी, दुर्गा अष्टमी ,नवमी पूजन

7 अक्टूबर
नवमी: नवरात्रि का नौवां दिन- नवमी हवन, नवरात्रि पारण

8 अक्टूबर
दशमी: दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी
  
 

कमेंट करें
GtVHe