दैनिक भास्कर हिंदी: अधिक मास में इस बार एकादशी का दुर्लभ योग

May 24th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। अधिक मास में इस बार शुक्रवार के दिन एकादशी का दुर्लभ योग बन रहा है, इसे कमला एकादशी कहते हैं। इस बार शुक्रवार, 25 मई को ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी है। अधिक मास में भगवान श्रीकृष्ण की पूजा का विशेष महत्व है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार अधिक मास की एकादशी और शुक्रवार का बहुत दुर्भभ होता है, क्योंकि अधिक मास तीन साल में एक बार आता है। इस दिन अगर कुछ खास उपाय किए जाएं तो हर मुसीबत से छुटकारा मिल सकता है और मनोकामनाएं भी पूरी हो सकती हैं।

 यह कर सकते हैं उपाय 
1. यदि पैसों की समस्या चल रही हो तो एकादशी पर सुबह स्नान आदि करने के बाद राधा-कृष्ण मंदिर जाकर दर्शन करें व पीले फूलों की माला अर्पण करें। इससे आपकी परेशानी कम हो सकती है।
2. सुख-समृद्धि पाने के लिए एकादशी पर पीले चंदन या केसर में गुलाब जल मिलाकर माथे पर टीका अथवा बिंदी लगाएं। ये उपाय रोजाना भी कर सकते हैं।
3. लक्ष्मी कृपा पाने के लिए कमला एकादशी पर केले के दो पौधे लगा दें। बाद में उनकी नियमित देखभाल करते रहें। जब पौधे फल देने लगे, तो इनका दान करें, स्वयं न खाएं।
4. एकादशी पर भगवान श्रीकृष्ण को पान का पत्ता भेंट करें और उसके बाद इस पत्ते पर रोली से श्री मंत्र लिखकर तिजोरी में रख लें। इस उपाय से धन वृद्धि के योग बन सकते हैं।
5. इस एकादशी पर भगवान श्रीकृष्ण को सफेद मिठाई या खीर का भोग लगाएं। इसमें तुलसी के पत्ते अवश्य डालें। इससे भगवान श्रीकृष्ण जल्दी ही प्रसन्न हो जाते हैं।
6. एकादशी पर दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक करें। इस उपाय से मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।

उल्लेखनीय है कि अधिक मास में दान दक्षिणा अति उत्तम  मानी जाती है। ब्राह्मण, दामाद और भांजा-भांजी को दान देने से पुण्य योग मिलने की मान्यता भी मानी जाती है।