उत्तर प्रदेश : इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइसेंस जून-जुलाई से शुरू करेगा डिप्लोमा कोर्सेस

November 30th, 2021

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तर प्रदेश इंस्टीटयूट ऑफ फारेंन्सिक साइंसेस द्वारा आगामी जून-जुलाई महीने से डिप्लोमा व सर्टिफिकेट कोर्सेस शुरू किये जाने की रूपरेखा तैयार की गयी है। इस संस्थान के लिये मंजूर किये गये पदो की नियमानुसार भर्ती की प्रक्रिया भी शीघ्र शुरू की जायेगी। लखनऊ के शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक संवर्ग की योग्यता व चयन के लिये नेशनल फारेन्सिक साइंस यूनिवर्सिटी के मानक एवं राज्य सरकार के नियमों के परिपेक्ष्य में इस संवर्ग की नियमावली अलग से बनायी जा रही है। प्रस्तावित नियमावली का ड्राफ्ट उपलब्ध कराये जाने के एक उच्चस्तरीय कमेटी बनायी गयी है।

उल्लेखनीय है कि शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक संवर्ग के कुल 131 पदों का सृजन शासन द्वारा किया जा चुका है। इन पदों पर प्रतिनियुक्ति के आधार पर और सीधी भर्ती के माध्यम से नियुक्तियां की जायेंगी। इनमें से जरूरी पदों को यथा शीघ्र भरे जाने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है। गर्वनिंग बाडी की दूसरी बैठक 10 दिसंबर को प्रस्तावित की गयी है जिसमें सोमवार की बैठक में लिये गये निर्णयों की प्रगति समीक्षा होगी। यह निर्णय यूपी इंस्टीटयूट ऑफ फारेंन्सिक साइंसेस लखनऊ के लिए गठित सोसायटी के बोर्ड ऑफ गवनिर्ंग बाडी की अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी की अध्यक्षता में सोमवार को लोक भवन में सम्पन्न पहली बैठक में लिया गया है। बैठक में वीडियों कॉन्फ्ऱेंसिंग के माध्यम से बोर्ड ऑफ गवनिर्ंग बाडी के उपाध्यक्ष एवं पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल ने भाग लिया।

गर्वनिंग बाडी में फोरेंसिक क्षेत्र के तीन विशेषज्ञ नामित किये जाने के लिये एनएफएसयू से अनुरोध किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। इस संस्थान में डिप्टी डायरेक्टर के पदों को आईपीएस अधिकारियों से भरे जाने के स्थान पर फारेसिंक क्षेत्र के अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों की तैनाती किये जाने का निर्णय लिया गया है। उल्लेखनीय है कि एकेटीयू द्वारा संस्थान को 200 करोड़ रुपए बिना ब्याज के दिये जाने के पूर्व में किये गये समझौते के तहत 50 करोड़ रुपए की धनराशि कार्यदायी संस्था को उपलब्ध करायी गयी है। संस्थान के भवन का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। बैठक में यूपी इंस्टीटयूट ऑफ फारेंन्सिक साइंसेज लखनऊ सोसायटी के पहले बाईलॉज 2021 में प्रस्तावित संसोधनों पर भी विस्तार से विचार विमर्श किया गया। बैठक में सचिव, गृह बीडी पाल्सन, एकेटीयू के वीसी विनीत कंसल, अपर पुलिस महानिदेशक, इंटेलिजेंस, एसबी शिरोडकर, अपर पुलिस महानिदेशक, ट्रेनिंग, डॉ संजय तरडे, पुलिस महानिरीक्षक, टेक्निकल, मोहित अग्रवाल के अलावा न्याय, वित्त, व प्राविधिक शिक्षा विभाग के विशेष सचिव ने भाग लिया।

(आईएएनएस)