comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

विद्यामंदिर क्लासेज़ ने ऑनलाइन लाइव क्लास के जरिये ‘घर से पढ़ाई’ करने की नई राह दिखाई

विद्यामंदिर क्लासेज़ ने ऑनलाइन लाइव क्लास के जरिये ‘घर से पढ़ाई’ करने की नई राह दिखाई

28 अप्रैल 2020, नई दिल्लीः पूरी दुनिया कोरोनोवायरस के संकट के साथ अर्थव्यवस्था ठप्प होने की दोहरी मार झेल रही है जबकि समाज के कुछ वर्गों जैसे कि विद्यार्थियों के सामने एक अन्य चुनौती जेईई और एनईईटी जैसी कुछ कठिन प्रतियोगिता परीक्षाएं भी हैं जिनकी हर हाल में तैयारी जारी रखनी है। हालांकि क्लासरूम प्रोग्राम पर रोक लगे हैं इसलिए इस क्षेत्र के अधिकांश संस्थानों ने विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाने की नई राह बना ली है। विद्यामंदिर क्लासेज़ ने वैश्विक महामारी के शुरू होने से पहले ही इसकी शुरुआत कर दी थी क्योंकि संस्थान ने खुद का ऑनलाइन लर्निंग प्लैटफाॅर्म ‘वीएमसी गुरु’ बना लिया था।

वीएमसी में विद्यार्थियों के सभी रेगुलर क्लास बैच अपने नियत समय से संचालित हैं। इनमें कोई विलंब या व्यवधान नहीं है। संस्थान के बेहतरीन शिक्षकों के लाइव ऑनलाइन क्लास से यह मुमकिन हो रहा है। मौजूदा रोक रहने तक लाइव ऑनलाइन क्लास चलेंगे और इसके बाद स्थिति सामान्य होने के साथ विद्यार्थी धीरे-धीरे क्लास वापस आएंगे।

संस्थान ने यह भरोसा दिया है कि आगामी सप्ताहों में शुरू होने वाले सभी बैच ऑनलाइन लाइव डेलीवरी के माध्यम से नियत समय पर शुरू हो जाएंगे। ऑनलाइन लाइव क्लास को लेकर विद्यार्थियों में उत्साह है जो हजारों की तादाद में इससे जुड़ रहे हैं और पढ़ाई कर रहे हैं। विद्यार्थियों और उनके माता-पिता दोनों की इस बारे में अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। कांसेप्ट की बेहतर समझ के लिए विद्यार्थी छोटे बैच में लाइव क्लास के दौरान अपने केंद्र के शिक्षकों से मार्गदर्शन प्राप्त कर रहे हंै।

वर्तमान परिदृश्य पर वीएमसी के सीईओ श्री विष्णु दत्त शर्मा ने बताया, “वीएमसी और विद्यार्थियों ने जिस तत्परता से हालात के हकीकत को समझ कर खुद को बदला है वह विद्यामंदिर और विद्यार्थी दोनों के लिए सुखद आश्चर्य की बात है और यह हमारा स्वाभिमान है कि हमारे विद्यार्थी हमेशा की तरह सही दिशा में जम कर तैयारी कर रहे हैं और हमेशा की तरह कठिन-से-कठिन परीक्षाओं में सफलता का परचम लहराएंगे। हमारे अधिकांश विद्यार्थी अपने-अपने घरों से परीक्षा की तैयारी जारी रखते हुए लाॅकडाउन की रुकावट दूर करने में सफल रहे हैं जो हमारे लिए एक बड़ी उपलब्धि है।’’

विद्यार्थी राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षाओं के माध्यम से वीएमसी के प्रोग्राम में प्रवेश ले रहे हैं। ये परीक्षाएं भी ऑनलाइन आयोजित की गई। इनमें विद्यार्थियों की उपस्थिति दर अभूतपूर्व रही है जो आॅफलाइन क्लासरूम परीक्षाओं में नहीं देखी गई।

वीएमसी का चुनौतियों से एक कदम आगे रहने का यह पहला मामला नहीं है। संस्थान वर्षों से कई मामलों मंे सबसे आगे रहा है जैसे कि आईआईटी-जेईई कोचिंग के लिए प्रवेश परीक्षा और स्क्रीनिंग की शुरुआत सबसे पहले 1990 में वीएमसी ने की; कंप्यूटर के माध्यम से फीडबैक देने और विद्यार्थियों के प्रदर्शन का विश्लेषण शुरू करने की शुरुआत भी सबसे पहले 1995 में वीएमसी ने की; आईआईटीजेईई की तैयारी के लिए रिविजन कोर्स - फाइनल स्टेप (एफएस) की शुरुआत भी सबसे पहले वीएमसी ने 1995 में की; भारत में पहली बार आईआईटीजेईई कोचिंग के लिए ऑनलाइन मूल्यांकन की शुरुआत वीएमसी ने 2011 में की; और 2011 में वीएमसी ने 18 शहरों में अपने क्लासरूम कोर्स शुरू किए, जहां अत्याधुनिक वीसैट टेक्नोलाॅजी से कक्षाएं आयोजित की गईं।

वीएमसी गुरु से ‘घर से पढ़ाई’ करने के इच्छुक विद्यार्थियों के नामांकन और अध्यापन का कार्यक्रम शुरू हो गया है। पूरी तरह आॅनलाइन अध्ययन करने के इच्छुक विद्यार्थी इसका विशेष लाभ ले सकते हैं। इसके तहत विद्यार्थियों को पूरे भारत के सर्वश्रेष्ठ और चुनिंदा शिक्षकों के लाइव क्लास से सीखने का अवसर मिलेगा। लाइव क्लास में भी शिक्षा पद्धति और उसकी गुणवत्ता क्लासरूम प्रोग्राम की तरह उच्च स्तरीय होती है। लेकिन यह विद्यार्थियों के लिए बहुत सस्ता है क्योंकि आॅनलाइन प्रोग्राम पर वीएमसी की लागत कम हो जाती है।

ऑनलाइन प्रोग्राम के विद्यार्थियों को भी अध्ययन के सारे संसाधन उपलब्ध हैं जो वीएमसी के क्लासरूम के विद्यार्थियों के लिए हैं जैसे कि  वैज्ञानिक पद्धति से तैयार अध्ययन सामग्री, राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा सीरीज, व्यक्तिगत विश्लेषण और सलाह। वीएमसी के लर्न फ्राॅम होम सॉल्यूशंस के कोर्स हल्के और विस्तृत दोनों हैं जो विद्यार्थियों की निजी आवश्यकताओं को ध्यान में रख कर बने हैं। यह उन विद्यार्थियों के लिए बेजोड़ माध्यम है जिनके शहर में वीएमसी के क्लासरूम सेंटर नहीं है या घर से अधिक दूर हैं। इसका लाभ खास कर उन विद्यार्थियों को भी होगा जो दैनिक गतिविधि के हिसाब से सटीक प्रोग्राम चाहते हैं या फिर वीएमसी के उच्च स्तरीय प्रोग्राम बहुत कम कीमत पर चाहते हैं। इतना ही नहीं वीएमसी विद्यार्थियों को कोरोनावायरस से उत्पन्न आर्थिक तंगी से बचाने और उनके सपने पूरे करने के लिए सीधे 35 प्रतिशत एंटी-कोविड स्काॅलरशिप भी दे रहा है।

वीएमसी का परिचय
आईआईटी-जेईई की तैयारी में सफलता का पर्याय है वीएमसी। पिछले 33 वर्षों में साल-दर-साल हजारों विद्यार्थियों ने वीएमसी के माध्यम से आईआईटी में दाखिले लिए हैं। इस क्षेत्र में वीएमसी ने जेईई और नीट में चयन की सर्वाधिक चयन दर दर्ज की है।

पिछले 5 वर्षों में इसके 10000$ विद्यार्थियों ने जेईई मेन्स में सफलता हासिल की और 5000$ विद्यार्थियों ने जेईई एडवांस में सफलता दर्ज की। मेडिकल की तैयारी करने वाले वीएमसी के 87.5 विद्यार्थियों ने 2019 में नीट में सफलता पाई। गौरतलब है कि यह मेडिकल के लिए वीएमसी का पहला बैच था और इसके बाद संस्थान के विद्यार्थियों ने लगातार बेहतरीन परिणाम दिए हंै।
वीएमसी उच्च गुणवत्ता की शिक्षा, उच्च कोटि के शिक्षक और वैज्ञानिक पद्धति से तैयार शिक्षा सामग्री की वजह से शिक्षा जगत में मशहूर नाम है। संस्थान ने वीएमसी गुरु नामक आॅनलाइन लर्निंग प्रोग्राम शुरू कर लाइव क्लास, वीडियो लेक्चर, शिक्षा सामग्री, साप्ताहिक और मासिक परीक्षा, व्यक्तिगत विश्लेषण और अन्य कई सुविधाएं दे रहा है। यह इंजीनियरिंग और मेडिकल में प्रवेश के सपनों को साकार करने के लिए विद्यार्थियों सबसे सही संस्थान है।
 

कमेंट करें
RyAQY
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।