दैनिक भास्कर हिंदी: Sushant Singh Death: शेखर कपूर ने कहा- मैं जानता था उन लोगों की कहानी, जिन्होंने तुम्हें इतनी बुरी तरह निराश किया

June 15th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। फिल्म इंडस्ट्री के जाने-माने निर्देशक शेखर कपूर ने सुशांत सिंह राजपूत को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। शेखर कपूर ने कहा कि मैं जानता था उन लोगों की कहानी, जिन्होंने तुम्हें इतनी बुरी तरह निराश किया कि तुम मेरे कांधे पर रोया करते थे। इससे पहले बॉलीवुड फिल्ममेकर मुकेश भट्ट (Mukesh Bhatt) ने दावा किया कि उन्हें पहले ही इसका एहसास हो गया था कि ऐसा कुछ होने वाला है। बता दें कि बॉलीवुड के टैलेंटेड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को उनके मुंबई स्थित घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। बताया जा रहा है कि वह करीब 6 महीनों से उनका डिप्रेशन का इलाज चल रहा था।

क्या कहा शेखर कपून ने?
शेखर कपूर ने सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद ट्विटर पर किए पोस्ट में लिखा- 'मैं जानता था कि तुम किस दर्द से गुजर रहे हो। मैं जानता था उन लोगों की कहानी, जिन्होंने तुम्हें इतनी बुरी तरह निराश किया कि तुम मेरे कांधे पर रोया करते थे। काश मैं पिछले 6 महीनों में तुम्हारे आस-पास रह पाता, काश तुम मुझसे बात कर पाते। तुम्हारे साथ जो हुआ वो तुम्हारा नहीं, बल्कि उन लोगों के कर्मों का फल है। #SushantSinghRajput'

क्या कहा मुकेश भट्ट ने?
एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में मुकेश भट्ट ने कहा कि 'मैं सुशांत से पहली बार साल 2012 में फिल्म 'आशिकी 2' की कास्टिंग के वक्त मिला। वो हमारे ऑफिस आया था। बाद में 'सड़क 2' की कास्टिंग के दौरान फिर से सुशांत से मुलाकात हुई।' उन्होंने कहा कि 'आलिया भट्ट और मैंने इस बारे में बात की थी कि सुशांत की रुचि इस फिल्म में है। सड़क 2' के दौरान जब मैं उनसे मिला तो वह बहुत परेशान लग रहे थे। कुछ तो था जिसकी वजह से मैं उनसे कनेक्ट नहीं कर पा रहा था। मुझे वो फिल्म के लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं दिख रहे थे। जब मैं उनसे बात कर रहा था तब ऐसा लग रहा था वो वहां मौजूद नहीं है और कहीं खोए हुए हैं।

सुशांत परवीन बाबी के रास्ते पर थे
मुकेश भट्ट ने कहा, 'मुझे लगा कि कुछ तो गड़बड़ है। इस बारे में मैंने महेश भट्ट से भी बात की थी और इशारा किया था कि सुशांत, 'परवीन बाबी के रास्ते पर' है। मुझे पहले ही लग रहा था कि ऐसा कुछ होने वाला है।' मुकेश भट्ट ने कहा,  'इस दुखद घटना को लेकर सब हैरान है, लेकिन मैं नहीं हूं। मैंने पहले ही ये सब देख लिया था। मुझे बहुत दुख है कि एक जवान और टैलेंटेड लड़का हमारे बीच नहीं है।' बता दें कि परवीन सिजोफ्रेनिया नाम की एक बीमारी से पीड़ित थी। ऐसा कहा जाता है कि दौलत और शोहरत के बावजूद परवीन अंदर से काफी अकेली थीं और शायद यही उनके मानसिक रोग की वजह बनी। 20 जनवरी 2005 को वह अपने फ्लैट में मृत मिलीं थी।