comScore

Video Viral: साउथ के इस सुपरस्टार ने बनाया मां के लिए खाना, वीडियों देखकर आप भी कहेंगे प्रोफेशनल शेफ से कम नहीं 

Video Viral: साउथ के इस सुपरस्टार ने बनाया मां के लिए खाना, वीडियों देखकर आप भी कहेंगे प्रोफेशनल शेफ से कम नहीं 

हाईलाइट

  • साउथ के मेगास्टार चिरंजीवी बने शेफ
  • मां के लिए बनाया डोसा
  • वीडियो हुआ वायरल

डिजिटल डेस्क, मुबंई। टॉलीवुड (Tollywood) के मेगा (Megastar) सुपरस्टार चिरंजीवी (Chiranjeevi) को कौन नहीं जानता। चिरंजीवी अपनी फिल्म इंद्रा द टाइगर (Indira- the tiger) से भारत के हर शख्स के दिल में छा गए थे। उनकी एक्टिंग का हर कोई दिवाना है। लेकिन क्या आप जानते हैं चिरंजीवी एक बेहतरीन कुक भी हैं। जी हां हाल ही में चिरंजीवी ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम  (Instagram) अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें वो अपनी मां अंजना देवी (Anjana Devi) के लिए खाना बनाते नजर आ रहें हैं। 

रणवीर सिंह ने खोले दीपिका के राज, आधी रात को इस चीज की होती है तलब, जानें क्या है वो

वीडियो: इस हॉलीवुड एक्ट्रेस ने अपनी ब्रा के साथ किया कुछ ऐसा, देखकर दंग रह जाएंगे आप

उनका खाना बनाने का तरीका देखकर आप भी कहेंगे कि क्या प्रोफेशनल शेफ (Chef) है। असल में चिरंजीवी यहां डोसा बना रहे हैं और ये बनाते वक्त जिस तरह वो डोसे को पलटते है वो काबिले तारिफ है। इसके बाद चिरंजीवी अपनी मां की ओर बढ़ते हैं जो डाइनिंग एरिया में भोजन कर रहीं है। चिरंजीवी उन्हें डोसा परोसते हैं और क्योंकि डोसा गर्म है तो वो उसे ठंडा करने के लिए हवा करते हैं।

90 के दशक की इस अभिनेत्री ने किया कुछ ऐसा कि शर्मिंदा हो गईं बेटी

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chiranjeevi Konidela (@chiranjeevikonidela) on

Mukesh Ambani's birthday: जब पत्नी नीता को मुकेश अंबानी ने सड़क पर किया था प्रपोज, जानें पूरा किस्सा

मां बेटे का ये अनोखा प्यार देखकर आपका भी मन करेगा कि इस लॉकडाउन (Lockdown) के बीच आप भी अपने माता -पिता के लिए ऐसा कुछ करें। 

बात करें चिरंजीवी के वर्क की तो आखिरी बार उन्हें सायरा नरसिम्हा रेड्डी (Sye raa narasimha reddy) में देखा गया था। इस फिल्म में चिरंजीवी के साथ अमिताभ बच्चन (Amitabh Bacchan), तमन्ना भाटिया (tamanna Bhatia) और नयनतारा (Nayantara) थी। वहीं एक अरसे बाद चिरंजीवी ने ये फिल्म की थी जिसे दर्शकों से बेइंतहा मोहब्बत मिली।

इस देश में पोर्न देखने पर सजा-ए-मौत, बाइबल रखने पर भेजा जाएगा जेल

अगर आप देखते हैं पोर्न फिल्में तो हो जाएं सावधान, वेबसाइट देखते समय आपके मोबाइल को ऐसे किया जाता हैं कंट्रोल

चिरंजीवी के दो बच्चे हैं, एक को तो आप जानते ही हैं साउथ फिल्मों (South Movies) में काम कर रहे रामचरनतेज (Ramcharantez) और श्रीज। आपको बता दें कि अल्लू रामलिंगय्या (allu Ramlingiya), अल्लू अर्जुन (Allu Arjun), नागबाबू (Nagbabu) , पवनकल्याण (Pawan Kalyan)  ये सभी सुपरस्टार चिरंजीवी के संबंधी है। चिरंजीवी की पत्नी का नाम सुरेखा है। साउथ में आम तौर पर जो फिल्म इंडस्ट्री (South Film Industry) से जुड़ा है उन्ही की तस्वीरें सामे आ पाती हैं, बाकियों के सिर्फ नाम ही सामने आते हैं। 

बॉलीवुड: अंधकार के बावजूद दीपों से रोशन हुआ देश, बी-टाउन सेलेब्स ने जलाए दीए

साउथ फिल्मों का तो हर कोई दिवाना है। खासकर बाहुबली (Bahubali) के हिंदी सिनेमा (Hindi Cinema) में रिलीज के बाद से।

सोने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली इस चीज से नेहा कक्कड़ ने बनाई ड्रेस, यूजर बोले- कोई और ऑपशन नहीं मिला...देखें वीडियो

कमेंट करें
hdju8
NEXT STORY

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। 21वीं सदी में भारत की राजनीति में तेजी से बदल रही हैं। देश की राजनीति में युवाओं की बढ़ती रूचि और अपनी मौलिक प्रतिभा से कई आमूलचूल परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। बदलते और सशक्त होते भारत के लिए यह राजनीतिक बदलाव बेहद महत्वपूर्ण साबित होगा ऐसी उम्मीद हैं।

अलबत्ता हमारी खबरों की दुनिया लगातार कई चहरों से निरंतर संवाद करती हैं। जो सियासत में तरह तरह से काम करते हैं। उनको सार्वजनिक जीवन में हमेशा कसौटी पर कसने की कोशिश में मीडिया रहती हैं।

आज हम बात करने वाले हैं मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस (सोशल मीडिया) प्रभारी व राष्ट्रीय समन्वयक, भारतीय युवा कांग्रेस अभय तिवारी से जो अपने गृह राज्य छत्तीसगढ़ से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखते हैं और छत्तीसगढ़ को बेहतर बनाने के प्रयास के लिए लामबंद हैं।

जैसे क्रिकेट की दुनिया में जो खिलाड़ी बॉलिंग फील्डिंग और बल्लेबाजी में बेहतर होता हैं। उसे ऑलराउंडर कहते हैं अभय तिवारी भी युवा तुर्क होने के साथ साथ अपने संगठन व राजनीती  के ऑल राउंडर हैं। अब आप यूं समझिए कि अभय तिवारी देश और प्रदेश के हर उस मुद्दे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगातार अपना योगदान देते हैं। जिससे प्रदेश और देश में सकारात्मक बदलाव और विकास हो सके।

छत्तीसगढ़ में नक्सल समस्या बहुत पुरानी है. लाल आतंक को खत्म करने के लिए लगातार कोशिशें की जा रही है. बावजूद इसके नक्सल समस्या बरकरार है।  यह भी देखने आया की पूर्व की सरकार की कोशिशों से नक्सलवाद नहीं ख़त्म हुआ परन्तु कांग्रेस पार्टी की भूपेश सरकार के कदम का समर्थन करते हुए भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर अभय तिवारी ने विश्वास जताया है कि कांग्रेस पार्टी की सरकार एक संवेदनशील सरकार है जो लड़ाई में नहीं विश्वास जीतने में भरोसा करती है।  श्री तिवारी ने आगे कहा कि जितने हमारे फोर्स हैं, उसके 10 प्रतिशत से भी कम नक्सली हैं. उनसे लड़ लेना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन विश्वास जीतना बहुत कठिन है. हम लोगों ने 2 साल में बहुत विश्वास जीता है और मुख्यमंत्री के दावों पर विश्वास जताया है कि नक्सलवाद को यही सरकार खत्म कर सकती है।  

बरहाल अभय तिवारी छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बघेल के नक्सलवाद के खात्मे और छत्तीसगढ़ के विकास के संबंध में चलाई जा रही योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं. ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने यह कई बार कहा है कि अगर हथियार छोड़ते हैं नक्सली तो किसी भी मंच पर बातचीत के लिए तैयार है सरकार। वहीं अभय तिवारी  सर्कार के समर्थन में कहा कि नक्सली भारत के संविधान पर विश्वास करें और हथियार छोड़कर संवैधानिक तरीके से बात करें।  कांग्रेस सरकार संवेदनशीलता का परिचय देते हुए हर संभव नक्सलियों को सामाजिक  देने का प्रयास करेगी।  

बीते 6 महीने से ज्यादा लंबे चल रहे किसान आंदोलन में भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से अभय तिवारी की खासी महत्वपूर्ण भूमिका हैं। युवा कांग्रेस के बैनर तले वे लगातार किसानों की मदद के लिए लगे हुए हैं। वहीं मौजूदा वक्त में कोरोना की दूसरी लहर के बाद बिगड़ी स्थितियों में मरीजों को ऑक्सीजन और जरूरी दवाऐं निशुल्क उपलब्ध करवाने से लेकर जरूरतमंद लोगों को राशन की व्यवस्था करना। राजनीति से इतर बेहद जरूरी और मानव जीवन की रक्षा के लिए प्रयासरत हैं।

बहरहाल उम्मीद है कि देश जल्दी करोना से मुक्त होगा और छत्तीसगढ़ जैसा राज्य नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ देगा। देश के बाकी संपन्न और विकासशील राज्यों की सूची में जल्द शामिल होगा। लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब अभय तिवारी जैसे युवा और विजनरी नेता निरंतर रणनीति के साथ काम करेंगे तो जल्द ही छत्तीसगढ़ भी देश के संपन्न राज्यों की सूची में शामिल होगा।