दैनिक भास्कर हिंदी: Fake News: क्या अजित पवार के घोटाले से जुड़े सभी केस बंद ?

November 27th, 2019

डिजिटल डेस्क। महाराष्ट्र में आखिरकार नए राजनीतिक युग का आरंभ हो गया है। राज्य में विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद कई सारे ट्विस्ट सामने आए। पहले भाजपा और शिवसेना का अलग होना, फिर अजित पवार का देवेंद्र फडणवीस को समर्थन देना। अजित के भाजपा को समर्थन देने के दो दिन बाद सिंचाई घोटाले में उन्हें क्लीन चिट की खबरे सामने आई। कई न्यूज चैनलों और सोशल मीडिया पर लोग इसे शेयर कर रहे हैं।

इंग्लिश न्यूज चैनल Timesnow ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि अजित पवार से जुड़ी सभी फाइले बंद कर दी गई है, उन्हें क्लीनचिट मिल गई है।

 

कुमार विश्वास ने भी इससे सच मानकर ट्विटर पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि बेचारे अजित पवार बताइए भला? ऐसे घनघोर ईमानदार नेता पर हमारे देवेंद्र भैया से चक्की पिसींग-पिसींग वाले भ्रष्टाचार के आरोप लगाया दिए, खामखाह 48 घंटे में, 70 हजार करोड़ के घोटाले के आरोप से अपनी ही सरकार द्वारा Clean Chit पाने पर देश के लोकतंत्र व अजित दादा को बधाई। 

 

क्या है सच?
भास्कर हिंदी ने अपनी पड़ताल में पाया कि किया जा रहा दावा गलत है। महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो के डीजी परमबीर ने इस दावे को गलत बताया है। उन्होंने कहा है कि अजित पवार से जुड़े कोई भी केस बंद नहीं किए गए हैं। 

 

न्यूज एजेंसी एएनआईने डीजी परमबीर का एक वीडियो भी शेयर किया है। 

 

यह साफ है कि दावा गलत है कि अजित पवार से जुड़े सभी केस बंद कर दिए गए हैं और उन्हें क्लीनचिट मिल गई है।