फैक्ट चैक: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का वीडियो एडिट करके गलत दावे के साथ किया जा शेयर

November 5th, 2022

डिजिटल डेस्क, भोपाल। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 26 सेकंड लंबे इस वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि सीएम गहलोत अपनी सरकार की आलोचना कर रहे हैं। वायरल वीडियो में वह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि जनता त्रस्त है राजस्थान मे। 

वायरल वीडियो को शेयर करते हुए एक ट्विटर यूजर ने लिखा, “4 साल कुर्सी पे रहने के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री @ashokgehlot51 कह रहे हैं “जनता त्रस्त है राजस्थान के अंदर”। कुछ काम किया होता तो यह बोलना नहीं पड़ता।।”

पड़ताल - वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने इसके बारे में जानकारी एकत्रित की। इसके लिए हमने कीवर्डस् का सहारा लिया। कीवर्डस् सर्च करने पर हमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ऑफिशियल यूट्यूब अकाउंट पर एक वीडियो मिला। 2 नवंबर 2022 को अपलोड किया गया यह वीडियो 5 मिनट 22 सेकंड लंबा था। इस वीडियो में अशोक गहलोत का दिया हुआ पूरा बयान सुना जा सकता है। वो अपने बयान में कहते हैं, “महंगाई और बेरोजगारी की वजह से राजस्थान और पूरे देश के अंदर जनता त्रस्त है। इसलिए राहुल गांधी रोजाना पसीना बहा रहे हैं और लाखों लोगों को लेकर 25 किलोमीटर चल रहे हैं। वो ये सब इसलिए ही कर रहे हैं, ताकि केंद्र सरकार पर दबाव बढ़ सके। हमें ये तय करना होगा कि अगली बार किस तरह की सरकार बनाए।” 

इस तरह हमने अपनी पड़ताल में पाया कि अशोक गहलोत के वीडियो को एडिट करके गलत दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। सही वीडियो में वह अपनी ही सरकार पर नहीं बल्कि केन्द्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। 

खबरें और भी हैं...