दैनिक भास्कर हिंदी: Fake news: जिस वीडियो को गलवान घाटी में घायल हुए भारतीय सेना के जवानों का बताकर शेयर किया जा रहा, वह एक साल पुराना

June 22nd, 2020

डिजिटल डेस्क। सोशल मीडिया पर एक मिनट का एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें भारतीय सेना के कई जवान घायल अवस्था में जमीन पर लेटे हुए दिखाई दे रहे हैं। वायरल वीडियो में यह दावा किया जा रहा है कि हाल ही में लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प के दौरान भारतीय सेना के कई जवान बुरी तरह घायल हुए हैं। 

किसने किया शेयर?
ट्विटर यूजर वसीम तारिक, मनदीप सिंह बराड़ और कई लोगों ने यह वीडियो इसी दावे के साथ शेयर किया है। 

क्या है सच?
भास्कर हिंदी टीम ने पड़ताल में पाया कि, वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। दरअसल यह वायरल वीडियो एक साल पुराना है। हमने YouTube पर कीवर्ड सर्च करने पर पाया कि, पिछले साल HIILU ALL IN ONE नाम के एक चैनल ने 3 मिनट का एक वीडियो शेयर किया था। वीडियो डिस्क्रिप्शन के अनुसार, सिविल बसें 30 अक्टूबर 2019 में सीमा सुरक्षा बल (BSF) के 93 सैनिकों को लेकर सिलचर जा रही थी। इस दौरान बस सड़क दुर्घटना का शिकार हुई थी। 

हमने Google पर 30 अक्टूबर 2019 से 31 अक्टूबर 2019 के बीच कीवर्ड सर्च करने पर पाया कि, Northeast now नाम की एक न्यूज वेबसाइट ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जो जवानों के वीडियो से मेल खाती है। रिपोर्ट के अनुसार, 30 अक्टूबर 2019 को पूर्वी जयंतिया हिल्स के उमतारा में एक बस के खाई में गिरने से 20 BSF जवान और 2 नागरिकों सहित 22 लोग घायल हुए थे। जिसमें से एक की मौत हो गई थी। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि, BSF की टीम 2 सिविल बस, 3 भारी वाहनों और एक बोलेरो कार में अपने बेस पर वापस लौट रही थी। जिसमें से एक बस उमतारा में राष्ट्रीय राजमार्ग-6 पर दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इससे साफ स्पष्ट होता है कि, वायरल वीडियो लद्दाख का नहीं है।

निष्कर्ष 
वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। दरअसल, वीडियो लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प के दौरान भारतीय सेना के जवानों के घायल होने का नहीं है। बल्कि, 30 अक्टूबर 2019 में मेघालय के उमतारा में राष्ट्रीय राजमार्ग-6 पर दुर्घटनाग्रस्त हुई BSF जवानों की बस का है। जिसमें 20 जवान घायल हुए थे। 

खबरें और भी हैं...