comScore

Fake news: अयोध्या के राम मंदिर का मॉडल बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है इस्कॉन मंदिर के मॉडल का फोटो

Fake news: अयोध्या के राम मंदिर का मॉडल बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है इस्कॉन मंदिर के मॉडल का फोटो

डिजिटल डेस्क। सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक फोटो वायरल हो रहा है। वायरल फोटो में एक बहुत ही सुंदर मंदिर का मॉडल दिखाई दे रहा है। इस वायरल फोटो के साथ यह दावा किया जा रहा है कि, यह मॉडल राम मंदिर का है। 

किसने किया शेयर?
कई फेसबुक और ट्विटर यूजर ने इस फोटो को इसी दावे के साथ शेयर किया है कि, यह मॉडल राम मंदिर का है। 

क्या है सच?
भास्कर हिंदी टीम ने पड़ताल में पाया कि, वायरल फोटो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। फोटो को गूगल पर रिवर्स इमेज के जरिए सर्च करने पर इस्कॉन मायापुर मंदिर की वेबसाइट सामने आई। वेबसाइट पर दी गई जानकारी से पता चला कि फोटो इस्कॉन द्वारा पश्चिम बंगाल के मायापुर में बनाए जा रहे चंद्रोदय मंदिर के मॉडल की है। इस्कॉन के इस मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है। 2022 तक इसका निर्माण पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस्कॉन की वेबसाइट पर दी गई जानकारी से यह स्पष्ट हुआ की वायरल हो रही फोटो अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर के मॉडल की नहीं है।

निष्कर्ष : सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटो अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर की नहीं है, बल्कि इस्कॉन द्वारा पश्चिम बंगाल के मायापुर में बनाए जा रहे चंद्रोदय मंदिर के मॉडल की है। 

कमेंट करें
PlU6J