फर्जी खबर: नागालैंड की सेना के नाम पर वायरल हो रहा है कोलंबिया का पुराना वीडियो, यहां देखे इस वीडियो का सच

December 11th, 2021

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नागालैंड के मोन जिले में तिरु क्षेत्र के पास 4 दिसंबर के दिन एक घटना सामने आई है। एक पिकअप जो कोयला खनिको को लेके जा रही थी उस पर सेना की एक स्पेशल यूनिट द्वारा शाम 5 बजे गोली बाड़ी कर दी गई। एक मीडिया ने रिपोर्ट जारी की कि इस घटना में 15 आम लोग और 1 जवान की मौत हो गई है। घटना के दो दिन राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग द्वारा इस पर पूछताछ की गई। 

इस घटना के बाद से ही सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल होने लगे, पूर्व रक्षा अधिकारी और लाइफ़ कोच एके. नैथानी अपने ट्वीटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया। इसमें दो आम आदमी सैनिकों को तेज धारदार हथियार लेकर धमकाते नजर आ रहे हैं। अपने बचाव में सैनिकों द्वारा नीचे गोलियां चलाते देखा जा सकता है।इस वीडियो को कई सोशल मीडिया यूजर ने शेयर किया है।

क्या है वायरल वीडियो का सच?

वीडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने इसके फ्रेम को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसके के बाद हमें कुछ मीडिया रिपोर्ट देखने को मिले। कोलंबिया के एक न्यूज़ आउटलेट नोटिसियास काराकोल टीवी द्वारा 2018 में एक रिपोर्ट जारी की थी। इस रिपोर्ट में बताया गया था कि घटना कोरिंटो के हाशिंडा मिराफ्लोरेस नाम के एक ग्रामीण इलाके की है।

इन सब मीडिया रिपोर्ट से यह बात साफ हो जाती हा कि घटना भारत की नहीं बल्कि कोलंबिया की है। जिसे गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।