दैनिक भास्कर हिंदी: शहरी घनत्व का उच्च कोरोना संक्रमण, मौतों से संबंध नहीं : जॉन्स हॉपकिन्स

June 19th, 2020

हाईलाइट

  • शहरी घनत्व का उच्च कोरोना संक्रमण, मौतों से संबंध नहीं : जॉन्स हॉपकिन्स

न्यूयॉर्क, 19 जून (आईएएनएस)। सघन आबादी वाली जगहों को कोरोनावायरस के प्रसार के लिए अनुकूल माना जाता है, लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि इसका कोरोना संक्रमण के उच्च दर से संबंध नहीं है।

अमेरिकन प्लानिंग एसोसिएशन की पत्रिका में प्रकाशित जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के नेतृत्व में किए गए अध्ययन के निष्कर्ष में यह भी पाया गया कि सघन क्षेत्र में कोविड-19 से हुई मौतों की दर कम देखने को मिली।

अमेरिका में जॉन्स हॉपकिन्स ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की अध्ययन प्रमुख लेखक शिमा हमीदी ने कहा, इन निष्कर्षों से पता चलता है कि शहरी योजनाकारों को कॉम्पैक्ट (सुसंबद्ध) स्थानों को बढ़ावा देना जारी रखना चाहिए।

अपने विश्लेषण के लिए, शोधकर्ताओं ने अमेरिका में 913 मेट्रोपॉलिटन काउंटी में सार्स-कोव-2 संक्रमण दर और कोविड-19 से हुई मौतों की दर की जांच की।

जब प्रजाति, नस्ल और शिक्षा जैसे अन्य कारकों को ध्यान में रखा गया, तो लेखकों ने पाया कि काउंटी घनत्व का काउंटी संक्रमण दर के साथ महत्वपूर्ण रूप से संबध नहीं है।

निष्कर्षों से यह भी पता चला कि सघन आबादी वाली काउंटियों में ज्यादा बड़ी व फैली इलाके वाली काउंटी की अपेक्षा मृत्युदर कम है, संभवत: ये इसिलए रहा, क्योंकि वहां बेहतर स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों सहित विकास का उच्च स्तर है।