comScore

कोरोना से ठीक हुए लोगों में दूसरी बीमारी का होगा सर्वे

October 20th, 2020 13:00 IST
 कोरोना से ठीक हुए लोगों में दूसरी बीमारी का होगा सर्वे

हाईलाइट

  • कोरोना से ठीक हुए लोगों में दूसरी बीमारी का होगा सर्वे

लखनऊ, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस की रफ्तार घट रही है। लेकिन ठीक हुए लोगों में अन्य कई बीमारियां होने लगी है। इसके अलावा स्वास्थ्य संबंधित अन्य परेशानियां भी सामने देखने को मिल रही हैं। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर की मदद से ऐसे रोगियों का सर्वे कराने जा रहा है। यह अभियान मंगलवार से शुरू हो जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, इस अभियान के अर्न्तगत 15 सितंबर तक कोरोना से ठीक हुए 80 हजार लोगों का सर्वे कराया जाएगा। इसके लिए विशेष टीम बनायी गयी है। मेडिकल टीमें ऐसे रोगियों से सवाल जवाब कर उनकी स्क्रीनिंग करेगी। अगर उन्हें करोना से मुक्ति मिल गयी है। इसके अलावा अन्य किसी तरह की परेशानी के इलाज के लिए गठित डाक्टर की टीमें मदद करेंगी। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के अनुसार, कोरोना से ठीक होने के बाद मरीजों को अगर परेशानी हो रही है तो सभी जिलों में नान कोविड अस्पतालों में पोस्ट कोविड केयर डेस्क से उनकी मदद हो जाएगी।

उधर लखनऊ में कोरोना संक्रमण में कमी आने लगी है। सोमवार को करीब 84 दिन बाद पहली बार मरीजों की संख्या करीब 250 से कम रही। लखनऊ में 28 जुलाई को 24 घंटे में 247 कोरोना मरीज मिले थे। इसके बाद मरीज लगातार बढ़ते जा रहे थे। शहर में संक्रमण का दायरा घट रहा है। लेकिन अभी खतरा टला नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ की रिकवरी दर को बेहतर करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि लखनऊ का जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग सभी कोविड अस्पतालों में नियमित संवाद बनाते हुए रिकवरी दर बेहतर करें।

विकेटी-एसकेपी

कमेंट करें
ASctO
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।