पुष्टि: दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन के 2 नए उप-प्रकार पाए गए

April 14th, 2022

हाईलाइट

  • विभाग ने कहा कि वह मई के अंत तक महामारी की पांचवीं लहर की उम्मीद कर रहा था

डिजिटल डेस्क, जोहानसबर्ग। दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रीय स्वास्थ्य विभाग ने पुष्टि की है कि ओमिक्रॉन सबलाइनेज बीए.4 और बीए.5 देश में मौजूद हैं।

विभाग के प्रवक्ता फोस्टर मोहले ने सिन्हुआ को बताया, दुनियाभर में ओमिक्रॉन के 5 उप-प्रकार देखे जा रहे हैं। हम दो - बीए.4 और बीए.5 देख रहे हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मोहले ने कहा कि बीए.4 सब-वेरिएंट के प्रकोप का कोई गंभीर मामला नहीं आया है।

उन्होंने कहा, बीए.4 के प्रकोप के परिणामस्वरूप संचरण दर या गंभीरता में बदलाव नहीं आया है। ये सब-वेरिएंट न तो पैदा कर रहे हैं और न ही वे 5वीं लहर का कारण बन रहे हैं।

विभाग ने कहा कि वह मई के अंत तक महामारी की पांचवीं लहर की उम्मीद कर रहा था।

क्वाजुलु-नताल विश्वविद्यालय के प्रोफेसर टुलियो डी ओलिवेरा ने भी नए उप-प्रकारों के बारे में बात की, लेकिन कहा कि चिंता का कोई कारण नहीं है।

उन्होंने ट्वीट किया, दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, बेल्जियम, जर्मनी, डेनमार्क और यूके में नए ओमिक्रॉन के 5 उप-प्रकार एबी.4 और एबी.5 का पता चला है। प्रारंभिक संकेत है कि ये नए उप-प्रकार दक्षिण अफ्रीका में जीनोमिक रूप से पुष्टि किए गए मामले बढ़ रहे हैं। अलार्म का कोई कारण नहीं है, क्योंकि मामलों या मौतों में कोई बड़ी वृद्धि नहीं हुई है।

संक्रामक रोग महामारी विज्ञानी अब्दुल करीम ने एसए-एफएम रेडियो को बताया कि ओमिक्रॉन की जगह लेने वाला वेरिएंट बहुत तेजी से फैलेगा। यह अनुमान नहीं लगाया जा सकता कि नया वेरिएंट गंभीर होगा या हल्का।

उन्होंने कहा, प्रत्येक नया वेरिएंट पहले की तुलना में तेजी से फैलता है।

बीटा और डेल्टा वेरिएंट के परिणामस्वरूप दक्षिण अफ्रीका में दूसरी और तीसरी लहरें अधिक गंभीर थीं, जबकि ओमिक्रॉन से जुड़ी चौथी लहर में अस्पताल में भर्ती होने और मौत के मामले कम आए।

नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्युनिकेबल डिजीज ने मंगलवार को कहा कि दक्षिण अफ्रीका में पिछले 24 घंटों में कोविड के 1,291 नए मामलों का पता चला है। संक्रमण दी 5.6 प्रतिशत है। इसी अवधि में दो मौतें हुईं, जिससे मौतों का कुल आंकड़ा 100,116 हो गया।

(आईएएनएस)