बांग्लादेश को सतत विकास के लिए जलवायु के प्रति होना होगा सजग

Bangladesh will have to be climate conscious for sustainable development
बांग्लादेश को सतत विकास के लिए जलवायु के प्रति होना होगा सजग
जलवायु सुधार की दिशा में काम बांग्लादेश को सतत विकास के लिए जलवायु के प्रति होना होगा सजग
हाईलाइट
  • समस्याओं का समाधान

डिजिटल डेस्क, ढाका। बढ़ते जलवायु जोखिमों को देखते हुए बांग्लादेश को विकास लाभ को बनाए रखने के लिए तटीय क्षेत्रों में जलवायु लचीलापन को मजबूत करना होगा और इसके लिए निवेश जारी रखना अति महत्वपूर्ण है। इसको लेकर विश्व बैंक ने नई रिपोर्ट जारी की है।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, रिपोर्ट में जलवायु परिवर्तन के प्रति संवेदनशीलता को कम करने के लिए देश की यात्रा पर प्रकाश डाला गया है और इसके तटीय क्षेत्र के लचीलेपन में सुधार की दिशा में आगे की कार्रवाई की सिफारिश की गई है। रिपोर्ट में जोखिमों के कारकों का विश्लेषण है। जिनमें कई समस्याओं का समाधान है।

बांग्लादेश और भूटान के लिए विश्व बैंक के कार्यवाहक देश निदेशक दंडन चेन ने कहा, तटीय क्षेत्र में जलवायु को लचीला रखना एक स्थिर लक्ष्य नहीं है, बल्कि बदलती परिस्थितियों के अनुकूल होने और विकास के उद्देश्यों के बीच तालमेल जारी रखना इसका विशेष मसकद है। रिपोर्ट में पाया गया है कि तटीय लचीलापन और निवेश बांग्लादेश के लिए आर्थिक, सामाजिक और पर्यावरणीय लाभों को जारी रखेगा।

 

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Created On :   13 Sep 2022 5:30 AM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story