comScore

ईयू से अलग हुआ ब्रिटेन, 47 सालों का नाता टूटा (लीड-1)

February 01st, 2020 13:01 IST
 ईयू से अलग हुआ ब्रिटेन, 47 सालों का नाता टूटा (लीड-1)

हाईलाइट

  • ईयू से अलग हुआ ब्रिटेन, 47 सालों का नाता टूटा (लीड-1)

लंदन, 1 फरवरी (आईएएनएस)। ब्रिटेन अंतत: आधिकारिक रूप से यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग हो गया, जो दुनिया के सबसे बड़े व्यापारिक ब्लॉक की 47 साल की सदस्यता के ऐतिहासिक समापन का प्रतीक है।

ब्रिटेन की जनता ने साढ़े तीन साल पहले जनमत संग्रह में ईयू से अलग होने के पक्ष में मतदान किया था। आखिरकार शुक्रवार को ईयू से ब्रिटेन अलग हो गया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यह संक्रमण काल की शुरुआत भी है जो इस साल के अंत तक चलेगा, क्योंकि वार्ताकार ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच व्यापार व्यवस्था बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

अलजजीरा के अनुसार, ब्रेक्सिट डे मनाने के जश्न के दौरान, लंदन की सड़कों पर यूरोपीय संघ के झंडे जलाए गए, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपने डाउनिंग स्ट्रीट कार्यालय में अपनी टीम के साथ ऐतिहासिक क्षण का जश्न मनाया।

हजारों लोगों ने संसद के बाहर खुशी मनाई, जबकि ब्रेक्सिट विरोधी लोगों ने आयरिश सीमा पर कई विरोध प्रदर्शन किए।

जॉनसन ने राष्ट्र के नाम एक संबोधन में, ब्रिटेन के ईयू से अलग होने को आशा का एक आश्चर्यजनक क्षण कहा।

जॉनसन ने कहा कि यह वो पल है जब नई सुबह की शुरुआत होती है और हमारे महान राष्ट्र के रंगमंच पर एक नए दृश्य के लिए पर्दा उठता है।

प्रधानमंत्री ने यूरोपीय संघ और एक ऊर्जावान ब्रिटेन के बीच मैत्रीपूर्ण सहयोग का एक नया युग कहा।

स्कॉटलैंड में, जिसने 2016 के जनमत संग्रह में यूरोपीय संघ में रहने के लिए मतदान किया था, वहां रैलियां और कैंडल लाइट मार्च निकालकर कार्यकर्ताओं ने स्कॉटलैंड के लिए दरवाजे खुला रखने का यूरोपीय संघ को एक संदेश भेजा।

उत्तरी आयरलैंड में, अभियान समूह बॉर्डर कम्युनिटीज अगेंस्ट ब्रेक्सिट ने अर्मा (आयरलैंड गणराज्य के साथ सीमा) के पास विरोध प्रदर्शन किए।

इस बीच यूरोप भर के नेताओं ने यूरोपीय संघ छोड़ने वाले पहले देश पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा कि ब्रेक्सिट हम सभी के लिए एक बड़ा विराम है और चेतावनी दी कि वार्ता निश्चित रूप से आसान नहीं होगी।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा कि ब्रेक्सिट यूरोपीय संघ के लिए एक अलार्म सिग्नल है और झूठ, अतिशयोक्ति, सरलीकरण पर नाराजगी जाहिर की, जिसके कारण अलग होने के लिए वोटिंग कराया गया।

मतदान होने के 1,317 दिनों के बाद ब्रिटेन यूरोपीय संघ से अलग हुआ है।

कमेंट करें
aQyDr