दैनिक भास्कर हिंदी: पुलवामा हमले को ट्रंप ने बताया 'भयावह', कहा, अच्छा होगा भारत-पाक साथ आएं

February 20th, 2019

हाईलाइट

  • हमले की लगातार आ रही रिपोर्ट्स का आंकलन कर बयान जारी करेंगे ट्रंप
  • अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा, जांच में भारत का सहयोग करे पाकिस्तान
  • डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, जांच में सहयोग करे पाकिस्तान

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले को 'भयावह' बताया है। ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि वह इस मामले में आ रही रिपोर्ट्स को देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट का आंकलन कर वे जल्द से जल्द बयान जारी करेंगे। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में पिछले हफ्ते CRPF की बस पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसकी अमेरिका के राष्ट्रपति ने निंदा कि है और कहा है कि आंतकवाद के खिलाफ अगर भारत और पाकिस्तान साथ आएंगे तो अच्छा होगा।

ट्रंप ने वाइट हाउस के ओवल ऑफिस में प्रेस से बातचीत में कहा कि अगर दक्षिण एशिया के दो पड़ोसी साथ मिलेंगे तो बहतर होगा। साथ ही एक अन्य प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमेरिकी विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने भारत का पुरजोर समर्थन करते हुए कहा कि " हमले के बाद हम लगातार भारत के साथ संपर्क में है। पाकिस्तान से अनुरोध है कि हमले की जांच में वह भारत को सहयोग करे।

पुलवामा आंतकी हमले के बाद ट्रंप के सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने  भारत के आत्मरक्षा के अधिकारों का समर्थन किया। राज्य के सचिव माइक पोम्पिओ, बोल्टन और व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा कि पाकिस्तान में पनाह लेने वाले आतंकी संगठनों पर कार्रवाई होनी चाहिए। 

संयुक्त राष्ट्र (UN) के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के हमले में CRPF के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत और पाकिस्तान से कहा है कि दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव को कम करने के लिए जल्द ही कदम उठाएं जाएं। UN के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा कि महासचिव ने दोनों पक्षों के अत्यधिक संयम बरतने और तनाव को नियंत्रण में रखने के लिए त्वरित कदम उठाने की आवश्यकता पर बल दिया है। इसके अलावा अगर दोनों देश राजी होते हैं तो वह मध्यस्थता का रास्ता अपनाया जा सकता है ।  

बता दें जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) तुकड़ी पर हुए हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। जवानों पर आत्मघाती हमला किया गया था। पुलवामा में गुरुवार को विस्फोटकों से लदी कार के साथ आदिल अहमद डार नाम के आतंकी ने CRPF की बस में टक्कर मार दी थी। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। बताया जाता है कि जैश का सरगना मसूद अजहर पाकिस्तान में रहता है।