comScore

अमेरिका: ट्रंप ने विपक्ष को घेरा,कहा- सुलेमानी को मारने का विरोध देश के लिए अपमानजक


हाईलाइट

  • हमने सुलेमानी को मारा जो दुनिया का नंबर एक आतंकी था- ट्रंप
  • डेमोक्रेट्स का विरोध करना देश का अपमान- डोनाल्ड ट्रंप

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। ईरानी कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या पर अमेरिका में राजनीति गरमा गई है। विपक्षी पार्टियां राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की इस कार्रवाई को गलत ठहरा रहे हैं। इस बीच ट्रंप ने विपक्षी दलों को घेरा है। उन्होंने कहा कि हमने सुलेमानी को मारा जो दुनिया का नंबर एक आतंकी था। वह कई अमेरिकी लोगों की हत्या का जिम्मेदार था। डेमोक्रेट्स हमारी कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं जो देश के अपमानजनक है। 

इस साल होने हैं राष्ट्रपति चुनाव
इस साल अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। ऐसे में डोनाल्ड ट्रंप कार्रवाई कर अपने पक्ष में एजेंडा सेट कर रहे हैं। वहीं डेमोक्रेट्स ईरान के साथ चल रहे विवाद पर ट्रंप पर निशाना साध रही हैं। सुलेमानी के मारे जाने का विरोध अमेरिका के शहरों में भी देखने को मिला था। यहां लोगों ने सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन किया था। इसके बाद से राष्ट्रपति ट्रंप की चिंता बढ़ गई है। 

शहलाई को भी मारने का था प्लान
अमेरिका कासिम सुलेमानी के साथ कुड्स फोर्स के अधिकारी अब्दुल रजा शहलाई को भी मारना चाहती थी, लेकिन वह बच गया। अमेरिका सरकार ने शहलाई पर 15 मिलियन डॉलर का ईनाम रखा है। गौरतलब है कि तीन जनवरी को इराक की राजधानी बगदाद में ईरान की रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स की इकाई कुड्स फोर्स के जनरल कासिम सुलेमानी और इराकी मिलिशिया कमांडर अबू महदी अल-मुहांडिस को मार दिया। 

ईरान लड़ने को तैयार
सुलेमानी की मौत के बाद ईरान आग बबूला हो गया है। वह अब अमेरिका से आर-पार की लड़ाई करने को तैयार हो गया है। रविवार को ईरान ने इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर 8 मिसाइले दागी हैं। इस हमले में चार इराक सैनिक घायल हो गए। वहीं इससे पहले ईरान ने गलती से यूक्रेन के विमान को मार गिराया। इस हादसे में 176 लोगों की मौत हो गई। विमान में सवार यात्रियों में सबसे अधिक ईरान (82) नागरिक थे। 


 


 

कमेंट करें
j5fxY