एलन मस्क : ट्विटर के बाद गूगल के को फाउंडर की पत्नी पर एलन मस्क की नजर! सामने आईं मस्क के नए अफेयर की खबरें, क्या मस्क हैं सर्गेई और निकोल के तलाक की वजह

July 25th, 2022

हाईलाइट

  • मस्क ने इन खबरों को निराधार बताया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अल्लू अर्जुन स्टारर पुष्पा फिल्म का एक मशहूर डायलॉग है - वायलेंस ... वायलेंस ... वायलेंस ... आई कैन अवॉयड वायलेंस बट वायलेंस कैंट अवॉयड मी। शायद, ऐसा ही कुछ हाल आजकल दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क के साथ चल रहा है बस फर्क इतना है कि हमें वायलेंस शब्द को कंट्रोवर्सी से बदलना होगा। हालांकि, मस्क हमेशा ही अपनी निजी और प्रोफेशनल लाइफ को लेकर चर्चाओं में रहते है लेकिन पिछले कुछ दिनों से वह कंट्रोवर्सीज का ही सामना कर रहे हैं।

सबसे पहले ट्विटर डील कैंसिल हुई, उसके बाद स्पेसएक्स (SpaceX) प्रोजेक्ट के तहत बूस्टर राकेट तबाह हो गया, फिर उनके अपनी कंपनी की ही एक महिला कर्मचारी से दो जुड़वां बच्चे होने का खुलासा हुआ, इसके बाद उनके पिता के अपनी सौतेली बेटी संग ही संबंध की खबरों ने सनसनी मचा दी और अब मस्क के गूगल को-फाउंडर की पत्नी संग अफेयर की चर्चाओं से खबरों का बाजार गरम है। 

अमेरिका के वॉलमार्ट जनरल ने एलन मस्क का गूगल के को-फाउंडर सर्गेई ब्रिन की पत्नी निकोल शनहान से अफेयर होने का दावा किया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सर्गेई ब्रिन ने अपनी पत्नी से तलाक के लिए अर्जी इसलिए डाली है, क्योंकि उनकी पत्नी और मस्क के बीच अफेयर चल रहा है।

उधर, मस्क ने इन खबरों को निराधार बताते हुए कहा, "सर्गेई और मैं दोस्त हैं और कल रात एक साथ पार्टी में थे। मैंने तीन साल में केवल दो बार निकोल को देखा है। हमारे बीच कुछ ऐसा नहीं है।"

जानकारी के मुताबिक, एलन मस्क और सर्गेई ब्रिन काफी लंबे समय से दोस्त है और इस दौरान वह ब्रिन के सिलिकॉन वैली स्थित घर आते-जाते रहते है। इस दौरान ही उनकी निकोल शनहान से नजदीकियां बढ़ी। इस बात का पता चलते ही सर्गेई ब्रिन ने एलन मस्क की कंपनियों में किए अपने निजी निवेश को भी बेचने के लिए सलाहकारों को निर्देश दिया था। 

एक रिपोर्ट के मुताबिक, शनहान के साथ मस्क का अफेयर दिसंबर में मियामी के आर्ट बेसल में शुरू हुआ था, जिसके बाद मस्क ने एक इवेंट के दौरान  ब्रिन से माफी भी मांगी थी। 

बता दें, तलाक की अर्जी डालने के बाद ब्रिन और शनहान एक समझौते पर बातचीत कर रहे हैं। इस बीच शनहान ने एक अरब डॉलर से अधिक की मांग की है।