विमान 1981 आईए के भगोड़े अपहर्ता ने पाकिस्तान में अपने ठिकाने का खुलासा किया

Fugitive hijacker of plane 1981 IA reveals his whereabouts in Pakistan
विमान 1981 आईए के भगोड़े अपहर्ता ने पाकिस्तान में अपने ठिकाने का खुलासा किया
पाकिस्तान विमान 1981 आईए के भगोड़े अपहर्ता ने पाकिस्तान में अपने ठिकाने का खुलासा किया
हाईलाइट
  • विमान में 111 यात्री और चालक दल के 6 सदस्य सवार थे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इंडियन एयरलाइंस के एक विमान को 1981 में लाहौर ले जाने के आरोपी गजिंदर सिंह ने कथित तौर पर एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए पाकिस्तान में अपने मौजूदा ठिकाने का खुलासा किया है। इस्लामाबाद हालांकि उसकी मौजूदगी से इनकार करता रहा है।

एक वांछित आतंकवादी और कट्टरपंथी संगठन दल खालसा के सह-संस्थापक गजिंदर सिंह का ठिकाना कथित तौर पर तब सामने आया, जब उसने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के हसन अब्दाल में गुरुद्वारा पनिया साहिब के सामने कैमरे के लिए पोज देते हुए अपनी एक तस्वीर सोमवार को फेसबुक प्रोफाइल के लिए पोस्ट की।

29 सितंबर 1981 को दिल्ली के पालम हवाईअड्डे से अमृतसर के राजा सांसी हवाईअड्डे के लिए एक इंडियन एयरलाइंस बोइंग 737 घरेलू यात्री उड़ान को गजिंदर सिंह के नेतृत्व में दल खालसा के पांच आतंकवादियों ने अपहरण कर लिया था और विमान को पाकिस्तान के लाहौर हवाईअड्डे पर ले जाया गया था। विमान में 111 यात्री और चालक दल के 6 सदस्य सवार थे। दल खालसा अलग सिख देश खालिस्तान की मांग कर रहा था।

गजिंदर सिंह ने पाकिस्तान में भारत के तत्कालीन राजदूत नटवर सिंह से बात की थी और अपनी मांगें को रखी थीं। उसने खालिस्तान आंदोलन से जुड़े जरनैल सिंह भिंडरावाले और अन्य कट्टरपंथियों की रिहाई और 500,000 डॉलर नकद की मांग की थी।

अपहर्ताओं को पाकिस्तान में मुकदमे का सामना करना पड़ा और उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। हालांकि, 14 साल जेल में बिताने के बाद वे सभी अक्टूबर 1994 में मुक्त हो गए। भारत सरकार ने बार-बार इस्लामाबाद से उनके निर्वासन की मांग की थी। साल 2002 में भारत की 20 मोस्टवांटेड आतंकियों की सूची में गजिंदर सिंह का नाम था।

 

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Created On :   7 Sep 2022 3:30 AM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story