दैनिक भास्कर हिंदी: भारत-चीन तनाव: LAC पर हिंसा से चिंतित संयुक्त राष्ट्र महासचिव, बोले- दोनों देश संयम बरतें

June 17th, 2020

हाईलाइट

  • लद्दाख में एलएसी पर मौतों से गुटेरेस चिंतित, संयम का आग्रह

डिजिटल डेस्क, संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच संघर्षो को लेकर चिंतित हैं और उन्होंने दोनों देशों से संयम बरतने का आग्रह किया है। गुटेरेस की एसोसिएट प्रवक्ता एरी कनेको ने कहा, हम वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच हिंसा और मौतों की खबरों को लेकर चिंतित हैं।

उन्होंने कहा, हम दोनों पक्षों से आग्रह करते हैं कि वे अत्यधिक संयम बरतें। हम उन रपटों को सकारात्मक मानते हैं, जिनमें कहा गया कि दोनों देश हालात को घटा रहे हैं। सोमवार का संघर्ष दोनों देशों के बीच हुए 1962 के युद्ध के बाद से संभवत: सबसे बुरा टकराव था, जिस दौरान किसी अग्न्यास्त्र का कथित तौर पर इस्तेमाल नहीं हुआ।

सोमवार रात पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर हुए संघर्ष में 16 बिहार रेजीमेंट के कर्नल बी. संतोष बाबू और भारतीय सेना के दो अन्य जवान शहीद हो गए। हालांकि भारतीय सेना ने बाद में खुलासा किया कि 20 जवान शहीद हुए हैं। भारत के विपरीत चीन ने आधिकारिक तौर पर नहीं कहा है कि उसकी तरफ भी सैनिक मारे गए हैं।

लेकिन ग्लोबल टाइम्स के संपादक हू शिन ने ट्वीट किया कि चीन की तरफ सैनिक हताहत हुए हैं, लेकिन सरकार संख्या बताना नहीं चाहती, क्योंकि वह नहीं चाहती कि दोनों देशों के लोग मृतकों की संख्या की तुलना करें। यह बीजिंग का सौहाद्र्र है।