comScore

मालदीव ने किया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आमंत्रित, संसद में देंगे भाषण


हाईलाइट

  • मालदीव की संसद ने पीएम मोदी को सदन को संबोधित करने के लिए आमंत्रित करने का प्रस्ताव पारित किया
  • पीएम मोदी अगले महीने की शुरुआत मालदीव की यात्रा पर जा सकते हैं
  • मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है

डिजिटल डेस्क, माले। मालदीव की संसद ने बुधवार को सर्वसम्मति से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सदन को संबोधित करने के लिए आमंत्रित करने का प्रस्ताव पारित किया। पीएम मोदी अगले महीने की शुरुआत मालदीव की यात्रा पर जा सकते हैं जिसे देखते हुए संसद ने ये प्रस्ताव पारित किया है। मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद, जिन्हें हाल ही में संसद के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था, ने कहा कि राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलीह ने पीएम मोदी से द्वीप राष्ट्र की अपनी संभावित यात्रा के दौरान सदन को संबोधित करने का अनुरोध किया था। बुधवार को संसद में उपस्थित सभी 80 सदस्यों ने भारतीय प्रधानमंत्री को सदन में भाषण देने के लिए आमंत्रित करने के प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया। कई सांसदों ने कहा था कि मोदी जैसे प्रभावशाली नेता का संसद को संबोधित करना एक सम्मान की बात होगी।

सूत्रों की माने तो मोदी दूसरे कार्यकाल के लिए पद संभालने के बाद अपनी पहली द्विपक्षीय यात्रा के लिए 7-8 जून को मालदीव जाएंगे। मोदी इससे पहले इब्राहिम सोलीह के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पिछले साल नवंबर में द्वीप राष्ट्र गए थे, जिन्होंने राष्ट्रपति चुनावों में अब्दुल्ला यामीन को हराने के बाद पद ग्रहण किया था। दिसंबर में सोलीह की भारत यात्रा के दौरान, भारत ने माले को 1.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर की वित्तीय सहायता की घोषणा की थी। सोलीह, नशीद और पूर्व राष्ट्रपति मौमून अब्दुल गयूम सहित मालदीव के कई नेताओं ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में मोदी को शानदार चुनावी जीत के लिए बधाई दी थी।

बता दें कि नरेंद्र मोदी लगातार दूसरी बार राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पीएम और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को 30 मई को शाम 7 बजे पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। समारोह में शपथ ग्रहण के बाद मेहमानों के लिए एक शाकाहारी हाई टी का भी आयोजन किया गया है। इसके बाद राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की ओर से मेहमानों के लिए एक छोटे सा निजी भोज रखा गया है। इसमें दाल रायसीना परोसा जाएगा। ये एक इन-हाउस इनोवेशन है जिसे पकाने के लिए 48 घंटे लगते हैं।

कमेंट करें
XrKMl