दैनिक भास्कर हिंदी: मंगल ग्रह पर चल रहीं धूल भरी आंधियां, स्लीप मोड में चला गया नासा का ऑपरच्यूनिटी रोवर

June 15th, 2018

हाईलाइट

  • मंगल ग्रह पर आंधी चलने से नासा का 'ऑपरच्यूनिटी रोवर' स्लीप मोड में चला गया।
  • तेज आंधी चलने से लाल ग्रह पर सूरज की किरणों का रास्ता अवरुद्ध हो गया है।
  • नासा के यान को मंगल ग्रह पर परसीवरेंस वैली नाम की जगह पर देखा गया है।

डिजिटल डेस्क, टम्पा। मंगल ग्रह पर भीषण धूल भरी आंधी चलने से नासा का 'ऑपरच्यूनिटी रोवर' ठप पड़ गया है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी का कहना है कि आंधी के कारण ही सौर ऊर्जा से चलने वाला मानवरहित यान स्लीप मोड में चला गया है और इसका पूरा सिस्टम ऑफलाइन हो गया है। नासा ने 'ऑपरच्यूनिटी रोवर' के बंद हो जाने को लेकर चिंता जताई है। नासा के अनुसार, अचानक धूल भरी तेज आंधी चलने से लाल ग्रह पर सूरज की किरणों का रास्ता अवरुद्ध हो गया है।

 

 

मंगल ग्रह पर करीब 1.4 करोड़ वर्ग मील (3.5 करोड़ वर्ग किलोमीटर) इलाके में धूल के गुबार की परत सी बिछ गई है। नासा की जेट प्रपल्शन लैबरेटरी में ऑपरच्यूनिटी के प्रॉजेक्ट मैनेजर जॉन कालास ने बताया कि यान को मंगल ग्रह पर परसीवरेंस वैली नाम की जगह पर देखा गया है। हमें आंधी खत्म होने का इंतजार है। उन्होंने कहा, ‘हम सभी को इस बात की चिंता है लेकिन उम्मीद भी है कि आंधी खत्म हो जाएगी। जिसके बाद रोवर फिर से हमसे संपर्क करने में सक्षम होगा।’

 

 

नासा ने बताया कि इस रोबॉटिक यान से आखिरी बार 10 जून को संपर्क हुआ था। मंगल पर जीवन का पता लगाने के लिए ऑपरच्यूनिटी और स्पिरिट नामक दो रोबॉटिक यानों को वर्ष 2003 में प्रक्षेपित किया गया था। दोनों एक साल बाद मंगल की धरती पर पहुंचे थे।