दैनिक भास्कर हिंदी: भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी, पाक अधिकारियों ने की मेहमानों से बदसलूकी

June 2nd, 2019

हाईलाइट

  • इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग में आयोजित की गई थी इफ्तार पार्टी
  • पाक एजेंसियों ने सैकड़ों मेहमानों को वापस भेजा और उत्पीड़न भी किया
  • मेहमानों के साथ बदसलूकी करते हुए उन्हें फोन पर भी धमकी दी

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान के इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में आए मेहमानों के साथ पाकिस्तानी अधिकारियों की बदसलूकी का मामला सामने आया है। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तानी एजेंसियों ने होटल सेरेना में आयोजित इफ्तार पार्टी में आने वाले करीब सैकड़ों मेहमानों को वापस भेज दिया। इतना ही नहीं उनका उत्पीड़न किया और फोन पर धमकी भी दी।

दरअसल शनिवार (1 जून) को भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों ने इस्लामाबाद के सेरेना होटल में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया था। पार्टी में शामिल होने के लिए कई मेहमानों को न्योता दिया गया था। इफ्तार पार्टी शुरू होने से पहले जब मेहमान यहां आने लगे तो पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों ने शर्मनाक हरकत की। रिपोर्ट के मुताबिक, कई मेहमानों के साथ धक्का-मुक्की की गई, कई लोगों की बार-बार जांच की गई तो कई लोगों को होटल के अंदर ही नहीं जाने दिया गया। इस दौरान मेहमानों, भारतीय अधिकारियों और पाकिस्तान के सुरक्षा अधिकारियों के बीच बहस भी हुई।

सूत्रों ने बताया, पाकिस्तानी एजेंसियों ने होटल सेरेना के बाहर घेराबंदी की और मेहमानों को धमकाया। उन्होंने विभिन्न नंबरों से मेहमानों को फोन किया और धमकी दी कि अगर वे इफ्तार पार्टी में शामिल हुए तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। यहीं नहीं दरवाजे बंद कर मेहमानों से कहा गया कि इफ्तार पार्टी रद्द कर दी गई है। मेहमानों से बदसलूकी के कारण इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में कम लोग ही पहुंच पाए। 

हालांकि इस मामले के बाद पाकिस्तान में भारतीय हाई कमिश्नर अजय बिसारिया ने माफी मांगते हुए कहा, हम उन सभी मेहमानों से माफी मांगते हैं, जिन्हें शनिवार को जबर्दस्ती वापस भेज दिया गया। ऐसी हरकत बेहद निराशाजनक है। उन्होंने कहा, पाक अधिकारियों ने न सिर्फ कूटनीतिक प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया बल्कि असभ्य व्यवहार किया। इससे द्विपक्षीय संबंधों पर असर पड़ेगा। 

इससे पहले शनिवार को भी इस मामले को लेकर समारोह में भी खेद जताया था। समारोह में बिसारिया ने कहा था कि, मैं उन सभी दोस्तों से माफी मांगता हूं, जिन्हें अत्यधिक जांच से गुजरना पड़ा। बिसारिया के खेद जताने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। बता दें कि उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भी न्योता दिया गया था। उनके अलावा पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी, विदेश सचिव सोहेल महमूद, सीनेट चेयरमैन और नेशनल असेंबली के स्पीकर को भी निमंत्रण दिया गया था

खबरें और भी हैं...