दैनिक भास्कर हिंदी: 780 दिन के मिशन के बाद धरती पर लौटा पायलेटलेस विमान

October 29th, 2019

हाईलाइट

  • अमेरिकी एयर फोर्स के स्पेसप्लेन का नाम X-37B है
  • एयर फोर्स ने कहा- विमान ने यात्रा में सभी लक्ष्यों को हासिल किया

डिजिटल डेस्क, न्यूयॉर्क। पायलट लेस विमान ने करीब 780 दिन के मिशन के बाद एक वापस धरती पर लैंड कर लिया है। अमेरिकी एयर फोर्स के स्पेसप्लेन का नाम X-37B है। विमान सीक्रेट ऑर्बिटल टेस्ट व्हीकल प्रोग्राम के तहत क्लासिफाइड रिसर्च कर रहा था। रविवार सुबह विमान ने अमेरिका के केनेडी स्पेस सेंटर पर सरप्राइज लैंडिंग की। विमान लंबे वक्त तक एक रहस्यमय मिशन पर रहा। एयर फोर्स ने कहा है कि विमान ने यात्रा के दौरान सभी लक्ष्यों को हासिल किया।

ज्ञात हो कि बिना पायलट के उड़ने वाला X-37B मॉडल बार-बार उड़ान भर सकता है और ऑरबिट में जाने या लौटने के लिए लंबी उड़ानें भर सकता है। ऐसे दो विमान एयर फोर्स के पास हैं। दोनों X-37B विमान ने कुल 2895 दिनों की यात्रा पूरी कर ली है। एयरफोर्स के मुताबिक, सिर्फ X-37B ही ऐसा स्पेस वेहिकल है जो दोबारा इस्तेमाल के योग्य है। यह प्लेन 29 फीट लंबा और 9.6 फीट ऊंचा है। इसका वजन 4990 किलो है। इसमें सोलर सेल और लिथियम आयन बैटरी लगी हुई हैं। प्लेन करीब 320 किमी की हाईट पर उड़ान भर रहा था।
 
आखिरी ट्रिप को OTV-5 नाम दिया
विमान की आखिरी ट्रिप को ऑर्बिटल टेस्ट व्हीकल-5 (OTV-5) नाम दिया गया था। यह ट्रिप 7 सितंबर 2017 को शुरू हुई थी। अधिकारियों ने OTV-5 मिशन के बारे में बेहद कम जानकारी दी है और ऐसा माना जा रहा है कि इससे अमेरिका के स्पेस फोर्स प्रोग्राम शुरू करने में मदद मिल सकती है।

एयर फोर्स के चीफ ऑफ स्टाफ डेविड एल गोल्डफिन ने एक बयान में कहा कि सरकार और इंडस्ट्री के बीच इनोवेटिव पार्टनरशिप के परिणाम के तौर पर ये विमान अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ते हुए सुरक्षित वापस लौट आया है। उन्होंने कहा कि एयर फोर्स के लिए आसमान अब कोई सीमा नहीं रही, अगर कांग्रेस यूएस स्पेस फोर्स को मंजूरी दे।

खबरें और भी हैं...