दैनिक भास्कर हिंदी: श्रीलंका में आतंकियों के ठिकाने पर कार्रवाई, 4 संदिग्धों सहित 15 की मौत

April 27th, 2019

हाईलाइट

  • श्रीलंका में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के ठिकाने पर की छापेमारी।
  • कार्रवाई के दौरान चार संदिग्धों सहित 15 की मौत।

डिजिटल डेस्क, कोलंबो। श्रीलंका में लगातार हो रहे बम धमाकों के बाद से ही सुरक्षाबल अलर्ट पर हैं। शनिवार को सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के ठिकाने पर छापा मारा। इस दौरान आतंकियों उनपर फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ के वक्त आत्मघाती हमलावरों ने  खुद को उड़ा लिया। इस धमाके में 15 लोगों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मृतकों में 6 बच्चे और चार IS से जुड़े संदिग्ध आतंकी भी शामिल हैं। ये सभी आतंकी एक घर में छुपे हुए थे। ईस्ट कोस्ट इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की खबर पर सुरक्षाबलों ने घर में छापेमारी की। 

पुलिस ने बताया कि, एक घर से 15 लोगों की लाश बरामद की गई है। श्रीलंका के ईस्ट कोस्ट इलाके में रात भर गोलीबारी चली। घर में आतंकियों के छुपे होने की सूचना के बाद पुलिस ने छापा मारा जिसके बाद आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। इसी दौरान हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया। मृतकों में 6 बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। धमाके की वजह से कुछ लोग घायल भी हुए हैं। 

बता दें कि शुक्रवार को श्रीलंका के कालामुनाई शहर में तीन बम धमाके हुए थे, हालांकि इन धमाकों में किसी की जान नहीं गई, लेकिन धमाकों की तीव्रता इतनी तेज थी कि आस-पास के कई घर हिल गए। धमाके के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया था। 

इससे पहले ईस्टर के मौके पर श्रीलंका की चर्च और होटल में 8 सीरियल बम धमाके हुए थे। हमलावरों ने सेंट सेबेस्टियन चर्च के साथ-साथ पूर्वी तट पर बटिकालोआ, कोलंबो के कोच्चीकेड जिले की चर्चों के अलावा देश की राजधानी में शांगरी-ला, किंग्सबरी और सिनेमन ग्रैंड होटलों को निशाना बनाया था। सीरियल ब्लास्ट में साढे तीन सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। मरने वालों में कम से कम 10 भारतीय भी शामिल है। ब्लास्ट में करीब 500 लोग घायल हुए थे जिनमें कुछ की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है। 

खबरें और भी हैं...